Shadow

ऑक्सीमीटर पर सवाल उठाना बीजेपी का मानसिक दिवालियापन: संजय सिंह

सिद्धार्थ नाथ सिंह एक बेहद जिम्मेदार मंत्री है जिन्होंने अपने झूठ को छिपाने के लिए दिल्ली के पुराने स्कूलों की फोटो ट्विटर पर पोस्ट की: संजय सिंह, प्रदेश प्रभारी व राज्यसभा सांसद, आप

दिल्ली सरकार द्वारा जेम पोर्टल खरीदे गए ऑक्सीमीटर पर सवाल उठाना बीजेपी का मानसिक दिवालियापन: संजय सिंह

लखनऊ। शुक्रवार को गोमती नगर स्थित मुख्य कार्यालय में प्रेस वार्ता करते हुए प्रदेश प्रभारी और राज्य सभा सांसद संजय सिंह ने सिलसिलेवार तरीके से उत्तर प्रदेश सरकार के मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह के झूठो की पोल खोली| मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने अलग अलग तस्वीरें ट्वीट कर दिल्ली सरकार के स्कूलों की बदहाल तस्वीर पेश करने की झूठी और नाकाम कोशिश की थी|

कोरोना संक्रमण का आंकड़ा हुआ 1 करोड़ के पार, बीते 24 घंटे में आए 25,152 नए केस

प्रदेश प्रभारी ने कहा की आदित्यनाथ के मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह उत्तर प्रदेश के गवर्नेंस मॉडल और दिल्ली के गवर्नेंस मॉडल पर खुली चुनौती दी, दिल्ली उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने उनकी चुनौती स्वीकार की और वो 22 दिसंबर को वो लखनऊ आ रहे है, लेकिन 48 घंटे बीत गये है अब तक सिद्धार्थनाथ सिंह की ओर से बहस की जगह और समय के बारे में कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली है| उन्होंने बस ट्विटर पर झूठ परोसा है|

सिद्धार्थनाथ सिंह के तस्वीरो कितनी झूठी है उनका साक्ष्य (तस्वीरें संग्लग्न है) देते हुए प्रदेश प्रभारी ने कहा कि सिद्धार्थ नाथ सिंह एक बेहद जिम्मेदार मंत्री है जिन्होंने अपने झूठ को छिपाने के लिए दिल्ली के पुराने स्कूलों की फोटो ट्विटर पर पोस्ट कर चिंता जताई है।

उत्तर प्रदेश मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह का झूठ: पहली तस्वीर – राजकीय सर्वोदय कन्या विद्यालय, पुल बंगश (दिल्ली)

सच : वर्ष 2015 की तस्वीर तब ये स्कूल ASI की बिल्डिंग में चल रहा था जो सरकारी आदेश के बाद बंद किया जा चूका है अब यहाँ कोई स्कूल नहीं है और यहाँ पढ़ने वाले बच्चो को दूसरे बेहतरीन स्कूल में शिफ्ट किया जा चुका है|

उत्तर प्रदेश मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह का झूठ: दूसरी तस्वीर – गवर्नमेंट सीनियर सेकेंडरी स्कूल, सोनिया विहार (दिल्ली)

सच : 2015 -16 की तस्वीर है जब केजरीवाल सरकार ने स्कूलों का काया कल्प शुरू किया था आज यहाँ एक शानदार स्कूल बिल्डिंग मौजूद है (फोटो संलग्न)

उत्तर प्रदेश मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह का झूठ: मुस्तफाबाद स्कूल में 80 बच्चो पर एक अध्यापक

सच : इसी स्कूल में 2169 बच्चे हैं और 61 शिक्षक, जिसके हिसाब से 35 बच्चों पर 1 टीचर हुआ

बीजेपी के झूठ: एक आर्डर नंबर दिखा कर कहा गया कि दिल्ली सरकार ने ऑक्सीमीटर 33 हज़ार में खरीदा

पीएम मोदी ने कहा कि, अब देश को लेकर वैश्विक धारणा बदली है

सच: ये सामान्य उंगली में लगाने वाला ऑक्सीमीटर नहीं बल्कि टेबल टॉप ऑक्ससीमीटर है, जिसके रेट की जानकारी केंद्र सरकार के जेम पोर्टल पर दिया है। सरकार का नियम है कि यदि कोई वस्तु जेम पोर्टल पर उपलब्ध है तो आप वहीं से खरीदेंगे, दिल्ली सरकार ने टेबल टॉप ऑक्ससीमीटर जेम पोर्टल से केंद्र सरकार द्वारा निर्धारित रेट पर ही खरीदा है। (आर्डर की कॉपी और जेम पोर्टल का रेट की फोटो साथ में संलग्न)

उन्होंने कहा पता नहीं मोदी जी और आदित्यनाथ जी के बीच जाने कौनसी वर्चस्व की लड़ाई चल रही है की आदित्यनाथ सीधा मोदी जी पर आरोप लगा रहे है।

उन्होंने तंज कसते कहा की भाजपा के लोग झूठ फैलाना बंद करें| इससे बेहतर है की 22 दिसंबर को मनीष सिसोदिया लखनऊ आ रहे है, सिद्धार्थनाथ सिंह जगह और समय बताये कहाँ पर बहस के लिए आना है और बहस के बाद दिल्ली के स्कूलों को देखने के लिए मनीष सिसदोईया के साथ ही चले जाए। आपके एक-एक झूठ का हम जवाब देंगे, हम भागने वाले लोग नहीं है।

2011 बीएडी के अभ्यार्थी जो टेट की परीक्षा पास कर चुके; उन्हें नौकरी के बदले डंडे दे रही है आदित्यनाथ सरकार: संजय सिंह

उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश में बीएडी के अभ्यार्थी जो टेट की परीक्षा पास कर चुके है, 2012 से सरकारी दफ्तर के चक्कर लगा रहे है, आंदोलन करने पर इन्हें डंडों से पिटवाया जाता है, सभी वरिष्ट अधिकारियों के साथ इनकी मीटिंग भी हो चुकी है, भर्तियों के नाम पर 290 करोड़ इनसे वसूला गया है, लेकिन आज तक इसकी भर्तियां नहीं हुई। आम आदमी पार्टी इनके आंदोलन का पूरा समर्थन करती है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *