Shadow

लखनऊ में गैंगवार/ 35 राउंड फायरिंग से थर्रा उठी राजधानी, 1 की मौत

लखनऊ में पूर्व ब्लॉक प्रमुख को बदमाशों ने गोलियों से भूना

लखनऊ। राजधानी लखनऊ बुधवार रात एक सनसनीखेज वारदात से दहल उठी। जब लखनऊ के विभूतिखण्ड क्षेत्र में मऊ जनपद के मोहम्मदाबाद गोहना के पूर्व ब्लाक प्रमुख अजीत सिंह की बदमाशों ने सरेराह गोली मारकर हत्या कर दी। ताबड़तोड़ हुई फ़ायरिंग से इलाके में हड़कंप मच गया। मामले में गैंगवार होने की आशंका जताई जा रही है। 35 राउंड फायरिंग से राजधानी थर्रा उठी।

पुलिस के अनुसार, अजीत को आठ से दस गोलियां लगी हैं। वहीं, उसके साथी मोहर सिंह व राहगीर डिलीवरी ब्वॉय को गोली लगी। घायलों को राजधानी के लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया गया है।स्थानीय लोगों की माने तो, अजीत पर हमला करने आए बदमाशों को चौराहे के बारे में पूरी जानकारी थी और बाइक कुछ दूर खड़ी की थी। अजीत के गाड़ी से उतरते ही गोलियां बरसाने के बाद बदमाश वहां से भाग निकले। बदमाशों ने पूरी वारदात को महज तीन मिनट में अंजाम दे दिया।

बताया जा रहा है कि अजीत सिंह पूर्व विधायक सिप्पू सिंह हत्याकांड में गवाह था। और वर्तमान समय में अजीत सिंह और आरोपी कुण्टू सिंह बीच गवाही ना देने को लेकर रंजिश चल रही थी। कभी कुण्टू सिंह के करीबी रहे अजीत सिंह की विधायक सिप्पू की हत्या के बाद दुश्मनी हो गई थी इस हत्याकांड में अजीत सिंह गवाह था। और वह मऊ से जिला बदर था।

ड्यूटी पर मुस्तैद महिला सिपाही ने राहगीर आकाश को पास के एक निजी अस्पताल में पहुंचाया, जहां उसे प्राथमिक उपचार के बाद लोहिया रेफर कर दिया गया। पुलिस की पूछताछ में गैंगवार के मामले में ध्रुव सिंह उर्फ कुंटू सिंह, अखिलेश उर्फ कुनकुन सिंह और गिरधारी शर्मा का नाम सामने आया है। अजीत के साथी मोहर सिंह ने पुलिस को पूछताछ में कुंटू और कुनकुन पर साजिश के तहत हमला कराने व गिराधारी से हत्या कराने का आरोप लगाया है।

दो दिन में दो हत्याकांड से दहली राजधानी

राजधानी में कमिश्नरेट प्रणाली लागू होने के बाद पहली बार गैंगवार हुआ है। दो दिनों में दो हत्याकांड से राजधानी दहल गई है। मंगलवार को दिनदहाड़े ठाकुरगंज में विपिन विश्वकर्मा की गोली मारकर हत्या कर दी गई। वारदात में बदमाशों ने पांच राउंड फायरिंग की थी। वहीं, बुधवार सरेशाम पूर्व प्रमुख की गोलियों से भूनने व साथी सहित दो के घायल होने से पूरा इलाका दहशत में हैं। पुलिस चौकी से चंद कदमों की दूरी पर होने वाले वारदात पुलिस पर सवाल खड़े कर रहे हैं।

https://www.youtube.com/watch?v=Sn3OS6oWQHM

यूपी विधान परिषद की 12 सीटों पर होने वाले चुनावों का हुआ ऐलान, ये है तारीख

#Agricultural law: संशोधन के लिए सरकार कमेटी बनाने को तैयार, संतुष्ट नहीं किसान

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *