Shadow

उत्तराखंड

सीएम योगी आदित्यनाथ ने लोहिया हॉस्पिटल की व्यवस्थाओं का लिया जायजा

सीएम योगी आदित्यनाथ ने लोहिया हॉस्पिटल की व्यवस्थाओं का लिया जायजा

उत्तराखंड, ट्रेंडिंग
file photo लखनऊ| प्रदेश में कोरोना संक्रमण के मामले लगातार बढ़ रहे हैं लॉकडाउन लागू होने के बावजूद भी कोरोना संक्रमित मरीजों की रफ्तार धीमी होने का नाम नहीं ले रही है लेकिन प्रदेश सरकार कोरोना के हालातों से निपटने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है इसी कड़ी में आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इमरजेंसी वार्ड का निरीक्षण करने लोहिया हॉस्पिटल पहुंचे|वहां पर उन्होंने अस्पताल का निरीक्षण किया और डॉक्टरों से जरूरी जानकारी हासिल की, साथ ही अस्पताल प्रशासन को आवश्यक दिशा निर्देश भी दिए| इस दौरान उनके साथ संसदीय कार्य मंत्री सुरेश खन्ना सहित प्रशासनिक अधिकारी मौजूद रहे
कोरोना संकट में ‘बेसहारों’ के ‘सहारा’ बने अखिलेश

कोरोना संकट में ‘बेसहारों’ के ‘सहारा’ बने अखिलेश

Breaking, अंतर्राष्ट्रीय, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, एक्सक्लूसिव, बाज़ार, राजनीति, राष्ट्रीय, लाइफ स्टाइल, सम्पादकीय
कोरोना संकट में अखिलेश यादव का "मुलायम स्टाइल" कोरोना महामारी को लेकर उत्तर प्रदेश की योगी सरकार लगातार विपक्ष के निशाने पर है, कभी कांग्रेस महासचिव प्रियंका गाँधी वाड्रा अपने राजनैतिक बयानों से तो कभी 'बस' और पैदल चलते प्रवासी मज़दूरों को लेकर प्रदेश की योगी सरकार को घेरती रहती हैं, वहीँ अब समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव के 'दांव' ने योगी सरकार की नींदें उड़ा दी है। दरअसल अखिलेश यादव ने यह 'दांव' राजनीति के पहलवान और अपने पिता मुलायम सिंह यादव से सीखा है, मुलायम सिंह को "धरती पुत्र" और "गरीबों का मसीहा" कहा जाता है, मुलायम और उनका परिवार हमेशा दूसरों की मदद के लिए तैयार रहते हैं, जनता के साथ हर अच्छे और बुरे समय खड़ी रहने वाली समाजवादी पार्टी भले ही सत्ता में रहे या उससे बाहर, उनकी महत्ता हमेशा बरकरार रही है, यही वजह है प्रदेश की राजनीति में समाजवादी पार्टी का 'जलवा' कभी कम नहीं हुआ।
उत्तर प्रदेश के औरैया में सड़क दुर्घटना में 24 प्रवासी मज़दूरों की मौत, 37 घायल

उत्तर प्रदेश के औरैया में सड़क दुर्घटना में 24 प्रवासी मज़दूरों की मौत, 37 घायल

Breaking, अंतर्राष्ट्रीय, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, एक्सक्लूसिव, बाज़ार, राजनीति, राष्ट्रीय, सम्पादकीय
कोरोना की मार के चलते पूरे देश में लॉक डाउन लागू है. ऐसे में हजारों प्रवासी मजदूर अलग-अलग राज्यों से अपने घरों की तरफ पैदल ही निकल पड़े हैं. उनके सामने कोरोना अकेली परेशानी नहीं बल्कि भूख भी इनके लिए जानलेवा साबित हो रही है. ताजा खबर उत्तर प्रदेश औरैया जिले से है, जहां 24 मजदूरों की मौत सड़क हादसे में हो गई. जबकि 37 मजदूर घायल हो गए. इनमें से गंभीर रूप से घायल 14 मजदूरों को सैफई (इटावा) के पीजीआई में भर्ती कराया गया है. जहाँ वो जिंदगी और मौत के बीच जंग लड़ रहे हैं. यह घटना मिहौली इलाके में शनिवार तड़के तीन बजे से 3:30 बजे के बीच हुई. राजस्थान की ओर से आ रहा ट्रक दिल्ली की ओर से आ रहे डीसीएम वैन से टकरा गया. इस ट्रक में लगभग 50 मजदूर सवार थे. कानपुर के पुलिस महानिरीक्षक मोहित अग्रवाल ने बताया, ‘शनिवार सुबह एक डीसीएम वैन दिल्ली से मजदूरों को लेकर आ रही थी. इनमें से कुछ मजदूर औरैया और का
यूपी में श्रम कानून में बदलाव पर सरकार और विपक्ष में तकरार

यूपी में श्रम कानून में बदलाव पर सरकार और विपक्ष में तकरार

Breaking, अंतर्राष्ट्रीय, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, एक्सक्लूसिव, करियर, ट्रेंडिंग, बाज़ार, राजनीति, राष्ट्रीय, सम्पादकीय
उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा राज्य के श्रम कानून में बदलाव के लिए लाए गए अध्यादेश पर बवाल खड़ा हो गया। योगी सरकार ने सूबे में औद्योगिक इकाइयों, प्रतिष्ठानों और कारखानों को एक हजार दिन (यानी तीन साल) के लिए श्रम कानूनों में छूट दे दी है।यूपी सरकार इस छूट को श्रमिकों के हित में बता रही है, वहीँ सरकार के इस फैसले को लेकर विपक्ष हमलावर हो गया है, कांग्रेस , समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी ने योगी सरकार के खिलाफ इस मुद्दे पर मोर्चा खोल दिया है, और सरकार की मंशा पर सवाल खड़े कर रहा है। वहीँ योगी सरकार भी विपक्ष के हमलों का जवाब देने में जुट गई है। योगी सरकार के श्रम मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा कि घड़ियाली आंसू बहाने वाले पहले अध्यादेश पढ़ लें, फिर कोई टिप्पणी करें। उन्होंने विपक्ष पर आरोप लगाते हुए कहा कि कांग्रेस और समाजवादी पार्टी (एसपी) श्रमिकों की सबसे बड़ी दुश्मन हैं क्योंकि वे उन श
अमनमणि त्रिपाठी को जारी पास को लेकर यूपी सरकार ने झाड़ा पल्ला, कही ये बात

अमनमणि त्रिपाठी को जारी पास को लेकर यूपी सरकार ने झाड़ा पल्ला, कही ये बात

उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड
फाइल फोटो उत्‍तर प्रदेश के विवादित विधायक अमनमणि त्रिपाठी की मुश्किलें बढ़ गई हैं. लॉकडाउन उल्‍लंघन के मामले में उनके खिलाफ विभिन्‍न धाराओं के तहत केस दर्ज किया गया है. देहरादून जिला प्रशासन ने यूपी के निर्दलीय विधायक त्रिपाठी सहित 12 लोगों को बदरीनाथ और केदारनाथ जाने के लिए पास जारी किया था, लेकिन इन्हें चमोली जिले के बॉर्डर से बदरीनाथ के कपाट न खुलने का हवाला देते हुए वापस लौटा दिया गया था. वहीं विधायक अमन मणि त्रिपाठी के लिए जारी पास को लेकर उत्तर प्रदेश सरकार ने पल्ला झाड़ लिया है. मुख्यमंत्री दफ्तर से कहा गया कि वह अपने कृत्यों के लिये स्वयं उत्तरदायी हैं,उनके द्वारा तथ्यों को भ्रामक रूप से CM योगी से जोड़ना आपत्तिजनक है..
सीएम ने हंदवाड़ा में शहीद हुए जवान के निधन पर जताया शोक, किया ये ऐलान

सीएम ने हंदवाड़ा में शहीद हुए जवान के निधन पर जताया शोक, किया ये ऐलान

उत्तराखंड, ट्रेंडिंग, राष्ट्रीय
फाइल फोटो लखनऊ. कोरोना संक्रमण के हालातों पर होने वाली प्रेसवार्ता में अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी ने बताया कि हंदवाड़ा में शहीद हुए जवानों को नमन करते हुए कहा कि सीएम योगी ने हंदवाड़ा में शहीद हुए जवानों के निधन पर दुख जताया है. साथ ही मुख्यमंत्री ने परिजनों को 50 लाख रुपये की मदद दी है. वहीं शहीद की पत्नी को 40 लाख रुपये की मदद दी है और शहीद आशुतोष शर्मा के परिवार को मदद दी है. शहीद की पत्नी को सरकारी नौकरी देने का ऐलान किया है. शहीद के गांव में गेट भी बनाने का ऐलान किया गया है. वहीं अपर मुख्य सचिव ने बताया कि मख्य सचिव ने सब्जी आदि की दुकानें 10 से 12 घंटे तक खोलने का आदेश दिया गया है. केस मिलने पर 1 किलोमीटर को हॉटस्पॉट नहीं और विमान सेवा को प्रतिबंधित किया गया है. स्कूल कॉलेज पूरी तरह बंद रहेंगे . धारा 144 के अंतर्गत आदेशों का पालन किया जायेगा.
बेबस मजदूरों का रेल किराया लेना बेहद शर्मनाक – विपक्ष 

बेबस मजदूरों का रेल किराया लेना बेहद शर्मनाक – विपक्ष 

Breaking, अंतर्राष्ट्रीय, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, एक्सक्लूसिव, ट्रेंडिंग, राजनीति, राष्ट्रीय, सम्पादकीय
कोरोना से निपटने के लिए देश में तीसरी बार लॉकडाउन लागू किया गया है. इस लॉकडाउन के चलते लाखों प्रवासी मजदूर अलग-अलग राज्यों में फंसे हैं. इन प्रवासी मजूदरों की घर वापसी के लिए गृह मंत्रालय ने गाइडलाइन तो जारी कर दी है, लेकिन इनको भेजने के एवज में राज्यों से किराया लेने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है. समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष व् पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव सहित कई राजनीतिक दलों ने इस मुद्दे पर केंद्र सरकार पर निशाना साधा है. विपत्ति के समय शोषण करना सूदखोरों का काम  - अखिलेश यादव  अखिलेश ने ट्वीट करके कहा है कि ट्रेन से वापस घर ले जाए जा रहे गरीब, बेबस मजदूरों से भाजपा सरकार द्वारा पैसे लिए जाने की खबर बेहद शर्मनाक है. आज साफ हो गया है कि पूंजीपतियों का अरबों माफ करने वाली भाजपा अमीरों के साथ है और गरीबों के खिलाफ. विपत्ति के समय शोषण करना सूदखोरों का काम होता है, सरकार का नहीं.
कोरोना योद्धाओं के सम्मान में सेना ने आसमान से की फूलों की बारिश

कोरोना योद्धाओं के सम्मान में सेना ने आसमान से की फूलों की बारिश

Breaking, अंतर्राष्ट्रीय, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, एक्सक्लूसिव, राजनीति, राष्ट्रीय
लखनऊ : कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ जंग लड़ रहे डॉक्टर्स और पैरामेडिकल स्टाफ के सम्मान में आज भारतीय वायुसेना के हेलिकॉप्टर ने लखनऊ के किंग जार्ज मेडिकल विश्वविद्यालय (केजीएमयू) और पीजीआई में फूलों की बारिश की। इस सम्मान से डॉक्टर, नर्स और अन्य पैरामेडिकल स्टाफ काफी भावुक हो गए। मेडिकल स्टाफ ने कहा कि इस सम्मान से इतनी हिम्मत मिली है कि हम दोगुने उत्साह के साथ मरीजों की सेवा करेंगे। सुबह सवा 10 बजे के करीब केजीएमयू प्रशासनिक भवन के सामने प्रागंण में विश्वविद्यालय के डॉक्टर, नर्स, पैरामेडिकल स्टाफ आदि इकट्ठा हुए थे। तभी किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी के ऊपर आईएएफ के दो हेलिकॉप्टर ने उड़ान भरी और फूलों की बारिश क,  इस दौरान डॉक्टर्स व मेडिकल स्टाफ ने उनका हाथ हिलाकर अभिवादन किया. हेलिकॉप्टर ने कैंपस के दो चक्कर लगाकर उन पर गुलाब के फूल बरसाए। नीचे मैदान में खड़े डॉक्टर और अन्य पैरामेडिकल
उत्तराखंड में हरिद्वार रेड ज़ोन, देहरादून और नैनीताल ऑरेंज बाक़ी 10 ज़िले ग्रीन ज़ोन में रखे गए

उत्तराखंड में हरिद्वार रेड ज़ोन, देहरादून और नैनीताल ऑरेंज बाक़ी 10 ज़िले ग्रीन ज़ोन में रखे गए

उत्तराखंड, ट्रेंडिंग
फाइल फोटो उत्तराखंड. कोरोना संक्रमण के चलते जहां देश में 17 मई तक लॉकडाउन बढ़ा दिया गया है. तो वहीं राज्यों में भी केंद्र सरकार के आदेश को क्रियान्वित करने दिशा में रूप रेखा तैयार करना शुरू कर दिया है. उत्तराखंड के मुख्य सचिव ने प्रेस वार्ता के संबंध में महत्वपूर्ण बातें कहीं.  लॉकडाउन 4 मई से 2 सप्ताह के लिए बढ़ाया गया है राज्य में कोरोना से बचाव के लिए कई अहम कदम उठाए गए है राज्य में ज़िलों को तीन ज़ोन में बंटा गया है हरिद्वार रेड ज़ोन, देहरादून और नैनीताल ऑरेंज बाक़ी 10 ज़िले ग्रीन ज़ोन में रखे गए हैं. वहीं उन्होंने कहा कि रेड ज़ोन के शहरी इलाक़ों में स्थिति जैसी है वैसी ही रहेगी. हॉट स्पॉट इलाक़ों में पाबंदियां यथावत रहेंगी. ग्रीन ज़ोन में सभी सरकारी कार्यालय खुलेंगे. शैक्षणिक संस्थानो में बहुत आवश्यक कार्य के लिए स्टाफ को बुलाया जा सकता है. राज्य में मनरेगा के कार्य शुरू कर दिए गए हैं. उत्तर