Shadow

करियर

1 जुलाई से शुरू होगी सीबीएसई 10वीं और 12वीं की परीक्षा, डेट शीट जारी

1 जुलाई से शुरू होगी सीबीएसई 10वीं और 12वीं की परीक्षा, डेट शीट जारी

करियर
सीबीएसई बोर्ड ने 12वीं की परीक्षा के लिए डेट शीट जारी कर दी है. इस परीक्षा को कोरोना के कारण बीच में ही टाल दिया गया था. 12वीं की परीक्षाएं एक जुलाई से 15 जुलाई के बीच होंगी. इसके साथ ही नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली में एक जुलाई से 15 जुलाई तक सीबीएसई 10वीं की परीक्षा होगी. मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने डेट शीट शेयर की है. बता दें कि लॉकडाउन के चलते सीबीएसई बोर्ड ने जारी परीक्षाएं मार्च में ही रोक दी थीं. इसके बाद सीबीएसई सचिव अनुराग त्रिपाठी ने दूसरे लॉकडाउन के वक्त घोषणा कर दी थी कि दसवीं बोर्ड की परीक्षाएं नहीं आयोजित होंगी. लेकिन 12वीं बोर्ड की बची हुई परीक्षाओं में से 29 मुख्य विषयों की परीक्षाएं आयोजित होंगी. ये मुख्य विषय वो विषय हैं जिनके जरिये विश्वविद्यालय में स्नातक स्तर पर एडमिशन मिलना सुनिश्च‍ित होता है. कई विश्वविद्यालय मेरिट के आधार एडमिशन लेते हैं जहां इन विषयो
प्रदेश में नहीं है नर्सों के वेकेन्सी

प्रदेश में नहीं है नर्सों के वेकेन्सी

करियर
लतिका मिश्रा ने अपने पैर पर खडो होने पर घर का सहारा बनने के लिए जीएनएम का डिप्लोमा किया। पिता ने डिप्लोमा कराने के लिए एक बीघा खेत भी बेचा । पढाई पूरी होने के बाद दो साल तक कही कोई जांब नहीं मिला। एक नर्सिंग होम में तीन हजार में 12 से 15 घंटे का काम मिला। इसी बीच एक संस्थान में आउटसोर्सिग में नौकरी मिली लेकिन सेलरी 15 हजार ऐसे में खुद का खर्च निकाल पाना ही संभव नहीं हो पा रहा है। ऐसी स्थित केवल एक लतिका की नही है । हजारों है जिन्होंने नर्सिग में डिप्लोमा किया लेकिन पाच से सात हजार में नौकरी करने को मजबूर है। पीजीआई नर्सिग एसोसिएशन की अध्यक्ष सीमा शुक्ला कहती है कि प्रदेश में केवल 13 हजार सरकारी नौकरी है जो फुल है। जब जरूरत नहीं है तो डिप्लोमा क्यों कराया जा रहा है। मेडिकल विवि, लोहिया , पीजीआइ सहित तमाम निजि संस्थान बीएससी नर्सिग और जीएनएम करा कर बेरोजगार ट्रेड नर्सेज की फौज खडी कर रहे
यूपी में श्रम कानून में बदलाव पर सरकार और विपक्ष में तकरार

यूपी में श्रम कानून में बदलाव पर सरकार और विपक्ष में तकरार

Breaking, अंतर्राष्ट्रीय, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, एक्सक्लूसिव, करियर, ट्रेंडिंग, बाज़ार, राजनीति, राष्ट्रीय, सम्पादकीय
उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा राज्य के श्रम कानून में बदलाव के लिए लाए गए अध्यादेश पर बवाल खड़ा हो गया। योगी सरकार ने सूबे में औद्योगिक इकाइयों, प्रतिष्ठानों और कारखानों को एक हजार दिन (यानी तीन साल) के लिए श्रम कानूनों में छूट दे दी है।यूपी सरकार इस छूट को श्रमिकों के हित में बता रही है, वहीँ सरकार के इस फैसले को लेकर विपक्ष हमलावर हो गया है, कांग्रेस , समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी ने योगी सरकार के खिलाफ इस मुद्दे पर मोर्चा खोल दिया है, और सरकार की मंशा पर सवाल खड़े कर रहा है। वहीँ योगी सरकार भी विपक्ष के हमलों का जवाब देने में जुट गई है। योगी सरकार के श्रम मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा कि घड़ियाली आंसू बहाने वाले पहले अध्यादेश पढ़ लें, फिर कोई टिप्पणी करें। उन्होंने विपक्ष पर आरोप लगाते हुए कहा कि कांग्रेस और समाजवादी पार्टी (एसपी) श्रमिकों की सबसे बड़ी दुश्मन हैं क्योंकि वे उन श
CBSE: इस समय होंगी 12वीं और 10वीं की बोर्ड परीक्षाएं , जानें पूरी डिटेल

CBSE: इस समय होंगी 12वीं और 10वीं की बोर्ड परीक्षाएं , जानें पूरी डिटेल

करियर
सीबीएसई बोर्ड यानि केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने आज कक्षा 12 और कक्षा 10 की बोर्ड परीक्षाओं के अंतर्गत लॉक डाउन के कारण स्थगित परीक्षाओं के लिए नई तिथियों की घोषणा कर दी है। बोर्ड द्वारा 12वीं के बचे हुए प्रश्न-पत्रों की परीक्षाओं और उत्तर-पूर्व दिल्ली में कक्षा 10 की शेष परीक्षाओं का आयोजन 1 जुलाई से 15 जुलाई 2020 के बीच करेगा। छात्र डेट शीट 2020 की विस्तृत जानकारी के लिए सीबीएसई बोर्ड की ऑफिशियल वेबसाइट, cbse.nic.in पर विजिट कर सकते हैं। केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक आज 8 मई को समाचार एजेंसी एएनआई को दिये एक बक्तव्य में कहा कि कक्षा 12 और कक्षा 10 की बोर्ड परीक्षाओं को 1 जुलाई से 15 जुलाई के बीच कराने से छात्रों को तैयारी के लिए पर्याप्त समय मिलेगा, जिससे छात्र और अच्छे से तैयारी कर सकते हैं। साथ ही, उन्होंने कहा कि 10वीं की बची हुई बोर्ड परीक्षाएं सिर्
CBSE 12th and 10th : परीक्षाओं की तिथियों का आज हो सकता है ऐलान

CBSE 12th and 10th : परीक्षाओं की तिथियों का आज हो सकता है ऐलान

करियर
सीबीएसई कक्षा 12 के बचे हुए प्रश्न-पत्रों की परीक्षाओं और उत्तर-पूर्व दिल्ली में कक्षा 10 की शेष परीक्षाओं के लिए तिथियों का ऐलान आज कर सकता है। छात्र सीबीएसई 12वीं कक्षा डेट शीट 2020 और 10वीं कक्षा डेट शीट से सम्बन्धित अपडेट के लिए बोर्ड की ऑफिशियल वेबसाइट, cbse.nic.in पर नजर बनाये रखें। केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक ने हाल ही में 5 मई को फेसबुक और ट्विटर पर लाइव सेशन में छात्रों से लाइव वेब इंटरैक्शन के दौरान कई छात्र द्वारा सीबीएसई की बची परीक्षाओं की तिथियों के बारे में पूछे जा रहे सवालों के जवाब में कहा था कि सीबीएसई बोर्ड की बची परीक्षाओं के बारे में कहा कि तिथियों की घोषणा 2-3 दिनों में यानि 7-8 मई 2020 तक कर दी जाएगी।
कोरोना संकट : जाने NEET और JEE Mains के पेपर की डेट

कोरोना संकट : जाने NEET और JEE Mains के पेपर की डेट

करियर
कोरोना का कहर पूरी दुनिया को अपनी चपेट में ले चूका है| कोरोना का असर पढाई पर भी नजर आ रहा है| वही कोरोना संकट के कारण अब NEET की परीक्षा 26 जुलाई को होगी. वही ये भी खबर आ रही है की JEE Mains की परीक्षा 19 जुलाई से 23 जुलाई के बीच होगी और JEE Advance की परीक्षा अब अगस्त में होगी. यह ऐलान मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने मंगलवार को किया.
कोरोना लॉकडाउन: यूजीसी नेट के आवेदन की अंतिम तिथि में हुआ बदलाओ

कोरोना लॉकडाउन: यूजीसी नेट के आवेदन की अंतिम तिथि में हुआ बदलाओ

करियर
कोरोना (Coronavirus) की वजह से जेएनयू (JNU), यूजीसी नेट (UGC NET), इग्नू पीएचडी (IGNU PHD), नीट (NEET) समेत कई अहमप्रवेश परीक्षा को टाल दी हैं। केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री (HRD) डॉ. रमेश पोखरियाल के मुताबिक, कोरोना वायरस (Coronavirus) की वजह से नेशनल टेस्टिंग एजेंसी के निदेशक को तमाम बड़े एंट्रेंस एग्जाम टालने के निर्देश दे दिए गए हैं। उन्होंने बताया कि लॉकडाउन (Lockdown) की वजह से कई प्रवेश परीक्षाओं को आवेदनों की तिथि को भी बढ़ाना पड़ा है। उन्होंने बताया कि नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) ने सात प्रवेश परीक्षा की डेट को आगे बढ़ा दिया है। एनटीए (NTA) ने नेशनल काउंसिल फॉर होटल मैनेजमेंट, जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी, इग्नू एडमिशन टेस्ट फॉर पीएचडी, इंडियन काउंसिल ऑफ एग्रीकल्चर रिसर्च, यूजीसी नेट, सीएसआईआर नेट और ऑल इंडिया आयुष पीजी एंट्रेंस टेस्ट के लिए आवेदन को आगे बढ़ाने का निर्णय लिया गया
CISCE ने बोर्ड परीक्षाओं को लेकर जारी किया नोटिफिकेशन

CISCE ने बोर्ड परीक्षाओं को लेकर जारी किया नोटिफिकेशन

करियर
काउंसिल फॉर द इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन ( CISCE ) ने 10वीं ( ICSE) और12वीं (ISC) की बाकी बची परीक्षाओं को लेकर एक जरूरी नोटिफिकेशन जारी किया है। इसके मुताबिक लॉकडाउन खत्म होने के बाद बाकी परीक्षाओं की तारीखें जारी कर दी जाएंगी। तारीखें घोषित करने के पहले छह से आठ दिन का समय दिया जाएगा, जिससे स्कूल तैयारी कर सके। बोर्ड के मुताबिक बाकी रह गईं परीक्षाओं को जल्द पूरा करवाने के लिए ये परीक्षाएं शनिवार व रविवार को भी ली जाएंगी। इस संबंध में बोर्ड ने एक ऑफिशियल नोटिफिकेशन जारी किया है। इसके मुताबिक सीआईएससीई बोर्ड की आईसीएसई (10वीं) व आईएससी (12वीं) के बचे हुए सभी पेपर्स की परीक्षा लेगा। इसके अलावा परीक्षा शुरू होने से 8 दिन पहले परिषद छात्रों को सूचित करेगी। नई तारीखों की घोषणा अभी नहीं की गई है।सीआईएससीई बोर्ड ने निर्णय लिया है कि इस दौरान सीआईएससीई के संबंधित स्कूल दसवीं के छात्रो
NEET पर सुप्रीम कोर्ट ने दिया बड़ा फैसला

NEET पर सुप्रीम कोर्ट ने दिया बड़ा फैसला

करियर
NEET एग्जाम को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने बड़ा फैसला लिया है | सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि एमबीबीएस, एमडी या डेंटल कोर्स में दाखिले के लिए यूनिफॉर्म एग्जाम नीट ही होगा और यह सहायता प्राप्त या गैर सहायता प्राप्त अल्पसंख्यक संस्थानों के संवैधानिक अधिकार में दखल नहीं देता है। सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस अरुण मिश्रा, जस्टिस विनीत शरण और जस्टिस एमआर शाह की बेंच ने कहा कि नीट के जरिये मेडिकल और डेंटल कोर्स में दाखिले का जो फैसला लिया गया था वह एडमिशन में करप्शन को खत्म करने के लिए लिया गया है और यह दाखिला प्रक्रिया यूनिफॉर्म है। सुप्रीम कोर्ट ने उस दलील को खारिज कर दिया जिसमें कहा गया था कि नीट प्राइवेट संस्थानों को व्यापार और व्यवसाय के संवैधानिक अधिकार में दखल देता है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि अनुच्छेद-19 (1) जी कहीं से भी पूर्ण अधिकार नहीं है और इसमें वाजिब रोक का प्रावधान है। स्टूडेंट के हित में य
अब सीएम योगी ने छात्र-छात्राओं को उनके घरों तक सुरक्षित पहुंचाने का उठाया बीड़ा

अब सीएम योगी ने छात्र-छात्राओं को उनके घरों तक सुरक्षित पहुंचाने का उठाया बीड़ा

Breaking, उत्तर प्रदेश, करियर, राजनीति, राष्ट्रीय
कोरोना वायरस और लॉकडाउन के बीच यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ श्रमिकों और छात्रों के लिए संकटमोचन बने हैं, लॉक डाउन के चलते पहले दिल्ली में फंसे मज़दूरों को उनके घर पहुँचाया, फिर कोटा से 7 हज़ार से अधिक छात्रों की उनके परिवार तक सुरक्षित पहुँचाया, और अब सीएम योगी आदित्यनाथ प्रयागराज में 10 हजार प्रतियोगी छात्र-छात्राओं को उनके घरों तक सुरक्षित पहुंचाने का बीड़ा उठाया है, सीएम के आदेश के बाद सोमवार रात नौ बजे से छात्रों को उनके घर भेजने की शुरुआत हुई. प्रयागराज में फंसे छात्रों की अनुमानित संख्या लगभग नौ से दस हजार बताई जा रही है. इन सभी छात्र और छात्राओं को 300 बसें संचालित कर उनके जिलों में चरणबद्ध तरीके से पहुंचाया जा रहा है. आपको बता दें कि प्रयागराज में इलाहाबाद केंद्रीय विश्वविद्यालय, प्रयागराज राज्य विश्वविद्यालय, राजर्षि टंडन मुक्त विश्वविद्यालय, सहित अन्य शिक्षण संस्थानों में पढ़ने वा