Shadow

राष्ट्रीय

आज ही के दिन बिकरू गांव में खेला गया था खूनी खेल, आठ पुलिसकर्मियों की हुई थी मौत

आज ही के दिन बिकरू गांव में खेला गया था खूनी खेल, आठ पुलिसकर्मियों की हुई थी मौत

उत्तर प्रदेश, राष्ट्रीय
आज से ठीक एक साल पहले बिकरू कांड हुआ था | 2 जुलाई 2020 की आधी रात बिकरू गांव में गैंगस्टर विकास दुबे और उसके गुर्गों ने डीएसपी और एसओ समेत 8 पुलिसकर्मियों की हत्या कर दी थी। एक-एक पुलिसकर्मी को दर्जनों गोलियां मारी थीं। पुलिस और एसटीएफ ने मिलकर आठ दिन के भीतर विकास दुबे समेत छह बदमाशों को एनकाउंटर में ढेर कर दिया था। 45 आरोपी जेल में बंद हैं। केस का ट्रायल जारी है। देश को हिला देने वाली वारदात के बाद तीन जुलाई की सुबह सबसे पहले पुलिस ने विकास के रिश्तेदार प्रेम कुमार पांडेय और अतुल दुबे को एनकाउंटर में मार गिराया। यहीं से एनकाउंटर पर एनकाउंटर शुरू हुए। इसके बाद हमीरपुर में अमर दुबे को ढेर किया। इटावा में प्रवीण दुबे मारा गया। पुलिस कस्टडी से भागने पर पनकी में प्रभात मिश्रा उर्फ कार्तिकेय मिश्रा ढेर कर दिया गया। विकास दुबे का नौ जुलाई की सुबह उज्जैन में नाटकीय ढंग से सरेंडर हुआ था। एस...
ऑडिट कमेटी : केजरीवाल सरकार ने जरूरत से 4 गुना अधिक की थी ऑक्सीजन की मांग

ऑडिट कमेटी : केजरीवाल सरकार ने जरूरत से 4 गुना अधिक की थी ऑक्सीजन की मांग

राष्ट्रीय
कोरोना की दूसरी लहर के दौरान दिल्ली समेत देश के अन्य इलाकों में ऑक्सीजन संकट का सामना करना पड़ा था। इस बीच दिल्ली में ऑक्सीजन संकट को लेकर सुप्रीम कोर्ट की ऑडिट पैनल की रिपोर्ट में हैरान करने वाला खुलासा हुआ है। मीडिया रिपोर्ट की मानें तो सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित ऑक्सीजन ऑडिट कमेटी ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि कोरोना की दूसरी लहर के दौरान दिल्ली सरकार ने जरूरत से चार गुना अधिक ऑक्सीजन की मांग की थी। सुप्रीम कोर्ट ने यह ऑडिट कमेटी पिछले महीने गठित की थी। इस कमेटी ने अपनी रिपोर्ट में पाया है कि दिल्ली सरकार ने कोरोना की दूसरी लहर के दौरान चार गुना ज्यादा ऑक्सीजन की मांग की। ऑडिट कमेटी की रिपोर्ट सामने आने के बाद भाजपा लगातार मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर निशाना साध रही है। पूर्व क्रिकेटर और गौतम गंभीर ने भी ट्वीट कर कहा कि, अगर अरविंद केजरीवाल में शर्म बची है तो अभी एक प्रेस कॉन्फ्र...
25 जून 1975: जानें कैसे इंदिरा गांधी ने लगाई थी इमरजेंसी?

25 जून 1975: जानें कैसे इंदिरा गांधी ने लगाई थी इमरजेंसी?

राष्ट्रीय, सम्पादकीय
भारत के इतिहास में आज ही के दिन 25 जून 1975 में देशभर में आपातकाल लगाने की घोषणा की गई थी. यह आदेश देश में तात्कालिन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की सिफारिश पर दिए गए थे. जिसने कई ऐतिहासिक घटनाओं को जन्म दिया. भारतीय राजनीति के इतिहास में यह सबसे विवादस्पद काल रहा क्योंकि आपातकाल में भारत में चुनाव स्थगित हो गए थे. भारत में 25 जून 1975 से 21 मार्च 1977 तक की 21 महीने की अवधि का आपातकाल था. 1975 में तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के नेतृत्व वाली सरकार की सिफारिश पर तत्कालीन राष्ट्रपति फखरुद्दीन अली अहमद ने आपातकाल की घोषणा की थी. यह घोषणा भारतीय संविधान के अनुच्छेद 352 के अंतर्गत की गई थी. उस वक्त इंदिरा गांधी ने सरकार के खिलाफ आवाज उठाने वले हर शख्स को जेल में बंद करवा दिया था. बता दें कि देश में आपातकाल के ड्राफ्ट पर तत्कालीन राष्ट्रपति फखरुद्दीन अली अहमद ने 25 जून की आधी रात को हस्ता...
बीजेपी ने बनाया 2022 के एजेंडे पर रोडमैप,  चुनाव में उतरेगी 300 पार के नारे के साथ

बीजेपी ने बनाया 2022 के एजेंडे पर रोडमैप, चुनाव में उतरेगी 300 पार के नारे के साथ

Uncategorised, उत्तर प्रदेश, राजनीति, राष्ट्रीय
उत्तर प्रदेश में सत्तारूढ़ बीजेपी का चुनावी अभियान शुरू होने से पहले बैठक का दौर जारी है. मंगलवार का दिन बीजेपी के लिए गहमागहमी भरा रहा. पूरे दिन बीजेपी के अंदर हलचल रही. बीजेपी मुख्यालय पर पार्टी के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बीएल संतोष और प्रदेश प्रभारी राधामोहन सिंह की मौजूदगी में योगी आदित्यनाथ के साथ बीजेपी कोर कमेटी की बैठक हुई, जो देर रात तक चली. इस बैठक में मिशन 2022 के रोडमैप को लेकर विस्तृत चर्चा हुई. बैठक में निर्णय लिया गया कि अगले साल के चुनाव में पार्टी संगठन 300 पार के नारे के साथ चुनाव मैदान में उतरेगा. बीएल संतोष और राधामोहन सिंह फिर से लखनऊ पहुंचे हुए हैं. वह दो दिन के दौरे पर यहां आए हैं. उनके आने के बाद बीजेपी में हलचल बढ़ गई. मंगलवार को कई बैठकें हुई. पहले बीएल संतोष और राधामोहन सिंह ने पार्टी पदाधिकारियों के साथ बातचीत की. इसके बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ ...
PM मोदी के करीबी एके शर्मा को नहीं मिला मंत्रालय, लम्बे वक्त से थी चर्चा

PM मोदी के करीबी एके शर्मा को नहीं मिला मंत्रालय, लम्बे वक्त से थी चर्चा

उत्तर प्रदेश, राजनीति, राष्ट्रीय
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी  के करीब रहे एके शर्मा को उत्तर प्रदेश में संगठन में एक पद देकर अटकलों पर विराम लगा दिया. एके शर्मा को प्रदेश उपाध्यक्ष की जिम्मेदारी पार्टी ने सौंपी है. इसके साथ ही प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने अर्चना मिश्रा और अमित बाल्मीकि को प्रदेश मंत्री नियुक्त किया है. मालूम हो कि गुजरात कैडर के 1988 बैच के आईएएस अरविंद कुमार शर्मा को 14 जनवरी 2021 उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह और उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने बीजेपी (BJP) की सदस्यता दिलाई थी. क्योंकि अरविंद कुमार शर्मा पीएम नरेंद्र मोदी के नजदीकी लोगों में शुमार रहे हैं और वह एकाएक वीआरएस लेकर यूपी में एमएलसी चुनाव के बीच बीजेपी से जुड़े. फिर वे विधान परिषद के सदस्य बनाए गए. ऐसे में उनकी दूसरी बड़ी भूमिकाओं तक के कयास लगने लगे. घटनाक्रम के बाद संगठन से लेकर सरकार ...
अलविदा मिल्खा सिंह: एशिया में चलता था सिक्का, कम उम्र में बनाये थे कई रिकॉर्ड

अलविदा मिल्खा सिंह: एशिया में चलता था सिक्का, कम उम्र में बनाये थे कई रिकॉर्ड

खेल, राष्ट्रीय
भारतीय खेल का जब भी जिक्र होगा मिल्खा सिंह का नाम सबसे ऊपर की लिस्ट में लिखा जाएगा। वह देश के पहले ट्रैंक ऐंड फील्ड सुपर स्टार थे। उन्हें फ्लाइंग सिंह के नाम से भी जाना जाता था| फ्लाइंग सिंह कहे जाने वाले महान धावक मिल्खा सिंह के निधन के बाद पूरा देश दुखी है। बीती रात चंडीगढ़ के पीजीआई अस्पातल में उन्होंने आखिरी सांस ली। बता दें कि इसी हफ्ते उनकी पत्नी ने भी कोरोना से लड़ाई में दम तोड़ दिया था। अब मिल्खा सिंह के निधन पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गृहमंत्री अमित शाह सहित सहित दिगग्ज नेताओं ने दुख जताया। राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द ने ट्वीट करते हुए लिखा,' 'स्पोर्टिंग आइकन मिल्खा सिंह के निधन से मेरा दिल दुख से भर गया है, उनके संघर्षों की कहानी उनके चरित्र की ताकत भारतीयों की पीढ़ियों को प्रेरित करती रहेगी, उनके परिवार के सदस्यों और अनगिनत प्रशंसकों के प्रति मेरी गह...
सीएम योगी ने बाल सेवा योजना का किया शुभारंभ, बच्चों से की मुलाकात

सीएम योगी ने बाल सेवा योजना का किया शुभारंभ, बच्चों से की मुलाकात

उत्तर प्रदेश, राष्ट्रीय
सीएम योगी ने शुक्रवार को गोरखनाथ मंदिर में कोरोना से माता पिता दोनों को खो चुके पांच बच्चों से मुलाकात की। वह जेल रोड पर स्थित एक बाल आशय गृह भी पहुंचे। दोनों मुलाकातों में उन्होंने बेसहारा बच्चों को स्नेहिल आशीष दिया। बोले, माता पिता का न रहना बेहद दुखदायी है लेकिन चिंता मत करो, मैं हूं ना। बच्चों को प्यार दुलार के साथ उपहार देते हुए कहा, उनके साथ सरकार हर पल खड़ी है। शुक्रवार को बलिया और वाराणसी के दौरे पर रवाना होने से पहले मुख्यमंत्री जेल रोड स्थित एशियन सहयोगी संस्था द्वारा संचालित बाल आश्रय गृह पर भी गए। इस दौरान उन्होंने वहां मौजूद सभी बच्चों को दुलारा, उनका नाम पूछा। बच्चों ने जब सीएम योगी को गायत्री मंत्र व महामृत्युंजय मंत्र सुनाया तो वह प्रसन्न हो गए। एक मासूम बच्ची ने मुख्यमंत्री को अंग्रेजी का अल्फाबेट सुनाया। बच्चों ने उन्हें योग के बारे में भी बताया। अभिभावक की भूमिका म...
2 माह से भूखी है ये महिला और उसके 5 बच्चे, देखिए क्या है हाल

2 माह से भूखी है ये महिला और उसके 5 बच्चे, देखिए क्या है हाल

उत्तर प्रदेश, राष्ट्रीय
उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में झकझोर देने वाला मामला सामने आया है। एक महिला और उसके 5 बच्चे 2 महीने से खाने के लिए तरस गए। पिछले दस दिनों से परिवार के सदस्यों ने रोटी नहीं खाई। पूरे परिवार के सदस्यों की भूखे रहने के कारण तबीयत खराब हो गई। जिन्हें अब मलखान सिंह जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। हालांकि अब उनका डॉक्टर्स ख्याल रख रहे हैं और एनजीओ ने भी कुछ मदद पहुंचाई है। लेकिन सरकार कटघरे में फिर से खड़ी हो गई है। दरअसल, अलीगढ़ के थाना सासनी गेट इलाके के आगरा रोड स्थित मंदिर नगला में 40 वर्षीय गुड्डी नाम की महिला अपने छोटे-छोटे पांच बच्चों के साथ रहती है। बच्चों में बड़ा बेटा अजय (20), विजय (15), बेटी अनुराधा (13), टीटू (10) सबसे छोटा बेटा सुंदरम (5) है। गुड्डी के मुताबिक, उसके पति विनोद की बीते वर्ष 2020 में कोविड लॉकडाउन से 2 दिन पूर्व ही गंभीर बीमारी के चलते मृत्यु हो गई। जिसके बाद परिवार...
Twitter पर FIR दर्ज करने वाला पहला राज्य बना यूपी, कानूनी संरक्षण हुआ खत्म

Twitter पर FIR दर्ज करने वाला पहला राज्य बना यूपी, कानूनी संरक्षण हुआ खत्म

उत्तर प्रदेश, राष्ट्रीय
नए आईटी नियमों का पालन न करने को लेकर Twitter  पर भारत की ओर से बड़ी कार्रवाई की गई है। अब Twitter  से भारतीय आईटी एक्ट की धारा 79 के तहत मिली कानूनी कार्रवाई से छूट को खत्म कर दिया गया है। कानूनी संरक्षण खत्म होते ही उत्तर प्रदेश ट्विटर के खिलाफ फेक न्यूज को लेकर केस दर्ज करने वाला पहला राज्य बन गया है। एक अधिकारी के मुताबिक, 26 मई से ट्विटर को मिली कानूनी छूट खत्म हो चुकी है। बता दें की सरकार ने पहले ही Twitter को यह चेताया था कि अगर उसने नए आईटी नियमों का पालन नहीं किया तो उसे आईटी कानून के तहत दायित्व से जो छूट मिली है, वह वापस ले ली जाएगी। इसके साथ ही उसे आईटी कानून और अन्य दंडात्मक प्रावधानों के तहत कार्रवाई के लिए तैयार रहना होगा। इससे पहले मंगलवार को Twitter ने कहा था कि उसने भारत के लिए अंतरिम मुख्य अनुपालन अधिकारी नियुक्त कर लिया है। जल्द ही अधिकारी का ब्योरा सीधे सूचना प्रौद्...
LJP में टूट के बाद चिराग पासवान ने दी पहली प्रतिक्रिया, किया भावुक ट्वीट

LJP में टूट के बाद चिराग पासवान ने दी पहली प्रतिक्रिया, किया भावुक ट्वीट

राजनीति, राष्ट्रीय
बिहार में चिराग पासवान को एक और झटका लगा है। दरअसल, उन्हें लोक जनशक्ति पार्टी के प्रमुख पद से भी हटा दिया गया। पशुपति कुमार पारस के समर्थक विधायकों ने इसके लिए पार्टी के संविधान का इस्तेमाल किया। वहीं, चिराग पासवान ने इस पूरे मामले में पहली बार चुप्पी तोड़ी और चाचा पशुपति पारस के नाम लिखा पुराना खत सोशल मीडिया पर साझा किया। वही पशुपति पारस के समर्थक विधायकों का कहना है कि चिराग पासवान तीन पदों पर एक साथ काबिज थे। बताया जा रहा है कि अब पशुपति कुमार पारस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष की जिम्मेदारी संभालेंगे। वह 20 जून तक कार्यभार संभाल सकते हैं। गौरतलब है कि पार्टी में हुई बगावत को लेकर चिराग पासवान ने पहली बार चुप्पी तोड़ी। उन्होंने अपने चाचा के नाम के नाम भावुक ट्वीट किया। उन्होंने लिखा कि पापा की मौत के बाद आपके व्यवहार से मैं टूट गया। मैं पार्टी और परिवार को साथ रखने में असफल रहा। बता द...