Shadow

सीएम योगी ने खंड शिक्षा अधिकारियों को बांटे नियुक्ति पत्र, कही ये बात..

लखनऊ। सीएम योगी आदित्यनाथ ने मिशन रोजगार के तहत बेसिक शिक्षा परिषद के नव नियुक्त खंड शिक्षा अधिकारियों को नियुक्ति पत्र वितरित किये। लखनऊ के लोकभवन में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि चार साल के इस कार्यकाल के दौरान प्रदेश में चार लाख युवाओं को सरकारी नौकरी देने में सफल हुए हैं। उन्होंने चयनित अभ्यर्थियों को बधाई देते हुए कहा कि प्रदेश के युवाओं को पारदर्शी और सुचितापूर्ण तरीके से नियुक्ति पत्र देकर उनकी प्रतिभा और ऊर्जा का लाभ प्रदेश के विकास के लिए ले पाने में सफल हो रहे हैं।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि आज से चार साल पहले उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग की गरिमा दांव पर लगी थी। उन्होंने आरोप लगाया कि जाति, क्षेत्र, मत और मजहब देखकर नियुक्तियां दी जाती थी। धनबल और बाहुबल का का भरपूर दुरुपयोग होता था। उन स्थियों में पारदर्शिता और सुचिता कल्पना मात्र ही थी। लेकिन, आज सभी चयन आयोगों से पारदर्शी तरीके से अभ्यर्थियों का चयन हो रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार ने आयोगों और बोर्डों को पहले ही कह दिया था कि कहीं भी पक्षपात या भ्रष्टाचार की शिकायत मिली तो सख्त कार्रवाई होगी।

वहीं शिक्षा मंत्री सतीश द्विवेदी ने कहा कि यूपी के इतिहास में इतनी बड़ी संख्या में पहली बार खंड शिक्षा अधिकारियों की भर्ती हो रही है। गांव में गरीब के बच्चों को भी गुणवत्तापूर्ण शिक्षा देने के लिए सरकार प्रतिबद्ध है। दुनिया की आधुनिक सुविधाएं यूपी के बेसिक शिक्षा के स्कूलों में दे रहे है। शिक्षा मंत्री ने कहा कि सीएम का बच्चों को लेकर बहुत अधिक लगाव है। जिसके चलते ऑपरेशन कायकल्प की शुरुआत की गई। पहली बार स्कूल में टाइल्स लगाए गए। इस दौरान धीरेंद्र त्रिपाठी, राजकिशोर सिंह, जय प्रकाश मौर्य, पूनम मधुकर, आनंद द्विवेदी, अंतिमा समेत 10 खंड शिक्षा अधिकारियों को नियुक्ति पत्र सौंपे गये।

https://www.youtube.com/watch?v=Z4wi7xiHjzQ

सांसद अशोक बाजपेयी ने सिविल हॉस्पिटल में लिया वैक्सीनेशन का जायज़ा

कौन हैं तीरथ सिंह रावत?, जिन्हें बीजेपी ने बनाया उत्तराखंड का नया मुख्यमंत्री

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *