Shadow

कोरोना मरीजों की ‘उम्मीद’ बताई जा रही है ये दवा, WHO ने भी जताई ख़ुशी

कोरोना वायरस का जबसे कहर शुरू हुआ है तबसे पुरे दुनिया इसकी दवा खोजने में जुटी है वही कई दवाओं पर शोध हुआ जो शुरआती दौर में सफल रही लेकिन बाद में उनका रिजल्ट भी मिलना बंद हो गया| वही अब इंग्लैंड में शोधकर्ताओं का कहना है कि पहला ऐसा प्रमाण मिला है कि एक दवा कोरोना वायरस (Coronavirus) के मरीजों को बचाने में कारगर हो सकती है. डेक्सामेथासोन (Dexamethasone) नामक स्टेरॉयड के इस्तेमाल से गंभीर रूप से बीमार मरीजों की मृत्यु दर एक तिहाई तक घट गयी है

इंग्लैंड में हुए इस शोध और इसके उत्साहजनक परिणाम पर विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने भी खुशी जताई है. एक बयान में WHO ने कहा- ‘हम डेक्सामेथासोन पर हुए शोध का स्वागत करते हैं जो कोरोना में मृत्यु दर को कम कर सकता है. हमें जीवन को बचाने और नए संक्रमण को रोकने पर ध्यान देना होगा.’

बता दें की यह एक पुरानी और सस्ती दवा है जो कोरोना वायरस से गंभीर रूप से बीमार काफी लोगों की जान बचाने में सफल साबित हुई है. वही ब्रिटेन के एक्सपर्ट का भी कहना है कि ये एक बड़ी सफलता है. Dexamethasone दवा की हल्की खुराक से ही कोरोना से लड़ने में मदद मिलती है. ट्रायल के दौरान पता चला कि वेंटिलेटर पर रहने वाले मरीजों को ये दवा दिए जाने पर मौत का खतरा एक तिहाई घट गया.

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *