Shadow

कोरोना संक्रमण के बढ़ने पर सख्ती, ज़िलाधिकारी चाहे तो लगा सकते हैं नाइट कर्फ्यू

FILE PHOTO

कोरोना संक्रमण के बढ़ने पर सख्ती, ज़िलाधिकारी चाहे तो लगा सकते हैं नाईट कर्फ्यू

लखनऊ। कोरोना के बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए अब प्रशासन बड़ी सख्ती बरतनी शुरू कर दी है। कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए अब जिलाधिकारी परिस्थितियों का आकलन करते हुए नाइट कर्फ्यू जैसे स्थानीय प्रतिबंध लगा सकेंगे। जिन शहरों में कोविड-19 की पॉजिटिविटी दर 10 प्रतिशत से अधिक है, वहां दफ्तरों में एक ही समय में कार्मिकों की उपस्थिति कम रखने के लिहाज से प्रशासन विखंडित कार्यालय समय प्रबंधन या अन्य समुचित उपाय करने पर विचार कर इस बारे में निर्णय ले सकता है।

लॉकडाउन ने व्यापार की कमर तोड़ दी, सरकार ने नहीं दिया पैकेज – प्रियंका गांधी

बताया जा रहा है कि शासन ने सोशल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से अनुपालन कराने के लिए दंड प्रक्रिया संहिता की धारा-144 का भी आवश्यकतानुसार प्रयोग करने का निर्देश दिया है। केंद्र सरकार के गृह मंत्रालय ने कोरोना पर नियंत्रण के संदर्भ में बीती 25 नवंबर को राज्यों को दिशानिर्देश जारी किये हैं। हाल ही में प्रदेश के कुछ क्षेत्रों में कोरोना संक्रमण बढ़ने पर मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी ने कंटेनमेंट जोन से जुड़े मापदंडों को सख्ती से लागू करने और प्रशासन को स्थानीय स्तर पर कुछ प्रतिबंध लगाने के लिए उत्तरदायित्व दिये जाने के बारे में दिशानिर्देश जारी कर दिए हैं। यह निर्देश एक दिसंबर से अगले आदेश तक लागू रहेंगे।

कंटेनमेंट जोन के बाहर किसी भी बंद स्थान में आयोजित होने वाली सभी सामाजिक, शैक्षिक, खेल, मनोरंजन, सांस्कृतिक, धार्मिक व राजनीतिक गतिविधियों के लिए हॉल या कमरे की निर्धारित क्षमता का 50 प्रतिशत ही प्रयोग होगा, लेकिन एक समय में अधिकतम 100 व्यक्ति फेस मास्क, शारीरिक दूरी, थर्मल स्क्री¨नग, सैनिटाइजर व हैंडवाश की उपलब्धता की अनिवार्यता के साथ मौजूद रह सकेंगे।

MLC चुनाव: समाजवादी पार्टी प्रत्याशी राम सिंह राणा ने पोलिंग बूथ का किया दौरा

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *