Shadow

लखनऊ के भैसाकुंड में दिखा जलती चिताओं का ख़ौफ़नाक मंजर!

लखनऊ। राजधानी लखनऊ में बुधवार को 98 अंतिम संस्कार हुए। इन सभी की मौत कोरोना से हुई थी। सरकारी डाटा के विपरीत 98 अंतिम संस्कार हुए। जिनमें भैसाकुंड पर 61 कोरोना ग्रसितों का अंतिम संस्कार और गुलाला घाट पर 37 कोरोना संक्रमितों का अंतिम संस्कार हुआ। सरकारी डाटा के मुताबिक पूरी यूपी में सिर्फ 68 मौतें हुई थी जबकि नगर निगम ने 98 अंतिम संस्कार की पुष्टि भी की है।

सोशल मीडिया में एक वीडियो वायरल हो रहा है। जिसे देखकर ऐसा लगता है कि यह दीपावली की रोशनी है बल्कि ये दीपावली की रोशनी नहीं जलती हुई चिंताओं का विडियो है ! नाकारा तंत्र के कारण आज हमको यह हाल देखना पड़ रहा है पर तंत्र ही अकेले दोषी नहीं हैं हम और आप भी इसके लिये दोषी है ! सरकार चलाने वाले जानते हैं कि आपकी याददाश्त कमजोर है! थोड़े ही दिनों में आपको हिंदू मुसलमान की बातें ज़्यादा याद दिलाने की कोशिश की जायेगी और आप भूल जायेगे! याद रखिये अगर आप इस बार यह भूले तो अगली चिता मेरी या आपकी हो सकती है ! किसी भी मंदिर और किसी भी मस्जिद से ज़्यादा ज़रूरी अस्पताल और बाक़ी सुविधाये है ! साल भर में कोरोना के नाम पर सिर्फ़ तमाशा किया गया।
आप दुबारा ऐसी तस्वीरें देखना नहीं चाहते तो सच का साथ दीजिये ! धर्म और जाति से बाहर निकलिए ! सवाल पूछने की आदत डालिये ! जो मीडिया संस्थान सच दिखाये उसका खुलकर साथ दीजिये ! सोशल मीडिया पर उसकी तारीफ़ कीजिये ! आपकी ऐसी कोशिशे ही क्रांति कर सकती है वरना मानसिक रूप से ऐसी चिंताओं को देखने की आदत डाल लीजिये!

 

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *