Shadow

CORONA VACCINE लेने के बाद महिला हेल्थ वर्कर की हुई मौत, इन देशों ने जारी की चेतावनी..

कोरोना ने पूरी दुनिया में तहलका मचा दिया तो वहीं अब वैक्सीन का ड्राई रन शुरू हो गया है। वहीं इस बीच एक दुखद खबर भी रही है कि पुर्तगाल में फाइजर की CORONA VACCINE लेने के दो दिन बाद कैंसर के अस्‍पताल में काम करने वाली एक महिला हेल्‍थ वर्कर की मृत्यु हो गई। सोनिया असेवेदो की वैक्‍सीन लेने के लगभग 48 घंटे बाद नए साल के दिन ‘अचानक से मौत’ हो गई।

बताया जा रहा है कि वैक्‍सीन लगवाने के बाद उनके अंदर कोई दुष्प्रभाव नहीं देखा गया था। सोनिया के पिता ने एक पुर्तगाली अखबार से बातचीत में कहा, ‘मेरी बेटी ठीक थी। उसे कोई स्वास्थ्य समस्या नहीं थी। बेटी ने कोरोना वैक्‍सीन लगवाया था लेकिन उसे कोई लक्षण नहीं था। मैं नहीं जानता कि क्‍या हुआ। मैं केवल जवाब चाहता हूं।’ साथ ही उन्‍होंने कहा, ‘मैं केवल यह जानना चाहता हूं कि क‍िस वजह से मेरी बेटी की मौत हो गई।’

वहीं अब सोनिया के अस्‍पताल ने भी इस बात की पुष्टि की है कि उनकी कर्मचारी को 30 दिसंबर को फाइजर की वैक्‍सीन लगाई गई थी। अस्‍पताल की ओर से कहा गया कि जब सोनिया को कोरोना की वैक्‍सीन लगाई गई तो उनके अंदर तत्‍काल और कई घंटे बाद भी कोई ‘अचानक से पैदा होने वाले प्रभाव’ नहीं देखे गए थे। अस्‍पताल ने अपने बयान में कहा कि सोनिया के मौत के कारणों की जांच भी की जा रही है।

बता दें कि इस नामचीन कैंसर अस्‍पताल में सोनिया पिछले 10 साल से काम कर रही थीं। सोनिया अपने परिवार के साथ रहती थीं लेकिन उनकी मौत उनके पार्टनर के घर पर हुई। वैक्‍सीन लगने के बाद सोनिया ने फेसबुक पर फेसमास्‍क के साथ सेल्‍फी भी डाली थी। उन्‍होंने लिखा था, ‘कोरोना का टीका लग गया।’

अमेरिका में स्वास्थ्य अधिकारियों ने किया दावा

वहीं अमेरिका के स्वास्थ्य अधिकारियों ने दावा किया कि स्वास्थ्यकर्मी को ठीक वैसा ही रिएक्शन हुआ जैसा कुछ दिनों पहले ब्रिटेन में दो स्वास्थ्यकर्मियों में देखा गया था। ऐसा रिएक्शन जानलेवा भी साबित हो सकता है। इसमें इंसान को सांस लेने में मुश्किल होती है और उसका ब्लडप्रेशर काफी गिर जाता है। बुधवार को अस्पताल में भर्ती किए गए अमेरिकी स्वास्थ्यकर्मी को डॉक्टरों ने खतरे से बाहर बताया है।

ब्रिटेन में स्वास्थ्यकर्मी हुए बीमार

वहीं ब्रिटेन में भी वैक्सीनेशन के दौरान दो स्वास्थ्यकर्मी टीका लगने के बाद बीमार हो गए थे। जिसके बाद ब्रिटिश स्वास्थ्य विभाग मेडिसिन्स एंड हेल्थकेयर प्रोडक्ट्स रेगुलेटरी एजेंसी ने चेतावनी जारी करते हुए कहा कि ऐसे लोग जिन्हें किसी दवा, खाना या वैक्सीन से एलर्जी है वह फाइजर की कोरोना वैक्सीन का टीका न लगवाएं।

अमेरिका ने भी जारी की चेतावनी

अमेरिका सी खाद्य और औषधि प्रशासन ने भी लोगों को सलाह जारी कर कहा है कि वे वैक्सीन की डोज लेने के पहले अपने डॉक्टर से सलाह जरूर लें। लोगों से यह जानने के लिये कहा गया है कि उन्हें वैक्सीन के किसी घटक से कोई एलर्जी तो नहीं है। एफडीए ने अपनी गाइडलाइन में कहा है कि स्वास्थ्य नियंत्रण किसी भी ऐसे आदमी को फाइजर-बायोएनटेक की वैक्सीन न दें जिसका एलर्जी का कोई इतिहास रहा हो।

इंसानियत शर्मसार! शाहजहांपुर में 5 साल की बच्ची के साथ हुआ दुष्कर्म

PM MODI के वाराणसी सहित इन शहरों में किया जा रहा है, CORONA VACCINE का DRY RUN ||

 

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *