Shadow

गैंगस्टर विकास दुबे की पत्नी, पिता और भाई समेत 18 लोगों पर दर्ज हुई F.I.R

File photo

गैंगस्टर विकास दुबे की पत्नी, पिता और भाई समेत 18 लोगों पर दर्ज हुई F.I.R

कानपुर में 8 पुलिस कर्मियों की हत्या के मास्टरमाइंड विकास दुबे के परिवार और जानने वालों पर सरकार का शिकंजा कसता जा रहा है। एसआईटी की रिपोर्ट के बाद अब पुलिस सारे पुराने रिकॉर्डों के आधार पर कार्रवाई कर रही है। एनकाउंटर कांड के मुख्य आरोपी विकास दुबे के पिता, पत्नी, भाई और उसकी पत्नी समेत 18 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गई है. इनमें से 9 लोगों पर फर्जी दस्तावेजों का इस्तेमाल करके हथियार लाइसेंस हासिल करने के लिए मुकदमा दर्ज किया गया है. जबकी बाकी 9 लोगों के खिलाफ किसी और की आईडी पर सिम कार्ड हासिल करने के लिए एफआईआर दर्ज की गई है.

शादी की खुशियां मातम में बदली, सड़क हादसे में गई 14 बरातियों की जान

फर्जी स्टाम्प दाखिल कर हथियार लाइलेंस लेने वाले आरोपियों में विकास दुबे के पिता रामकुमार दुबे, भाई दीपक दुबे उर्फ दीप प्रकाश और दीपक की पत्नी अंजली दुबे के नाम शामिल हैं. इसके अलावा विष्णुपाल उर्फ जिलेदार, अमित उर्फ छोटे बउवा, दिनेश कुमार, रवींद्र कुमार, अखिलेश कुमार और आशुतोष त्रिपाठी पर भी फर्जी स्टाम्प दाखिल कर हथियार लाइलेंस लेने का मुकदमा दर्ज हुआ है. वहीं किसी और की आईडी पर सिम कार्ड प्राप्त करने वाले आरोपियों में विकास दुबे की पत्नी ऋचा दुबे और भाई दीपक दुबे के अलावा मोनू, रामसिंह, शिवतिवारी, शांति देवी, खुशी, रेखा अग्निहोत्री व विष्णुपाल शामिल हैं.

बीएसपी सुप्रीमों मायावती के पिता प्रभुदयाल का हुआ निधन

बता दें कि दो-तीन जुलाई की दरम्यानी रात को कानपुर के चौबेपुर थाना क्षेत्र स्थित बिकरू गांव में माफिया सरगना विकास दुबे को गिरफ्तार करने गई पुलिस टीम पर ताबड़तोड़ गोलियां चलाई गई थीं. इस वारदात में आठ पुलिसकर्मियों की मौत हो गई थी. विकास दुबे को गत नौ जुलाई को मध्य प्रदेश में गिरफ्तार किया गया था वहां से कानपुर लाते वक्त 10 जुलाई की सुबह कथित रूप से एसटीएफ की गिरफ्त से फरार होने की कोशिश के दौरान हुई मुठभेड़ में वह मारा गया था. उसके बाद से ही प्रशासन का विकास दुबे से जुड़ी हुई सभी गतिविधियों पर शिकंजा कसता ही जा रहा है।

यूपी में हुआ भीषण सड़क हादसा, 14 लोगों की मौत

 

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *