Shadow

लेक्चरर से लेकर शिक्षा मंत्री रहे आर्य समाज के सन्यासी नेता स्वामी अग्निवेश..

फाइल फोटो

लेक्चरर से लेकर शिक्षा मंत्री रहे आर्य समाज के सन्यासी नेता स्वामी अग्निवेश..

सामाजिक और राजनैतिक मुद्दों पर अपनी बेबाक राय रखने वाले स्वामी अग्निवेश का शुक्रवार शाम दिल्ली के आईएलबीएस अस्पताल में निधन हो गया। स्वामी अग्निवेश के निधन पर उपराष्ट्रपति वैंकैय्या नायडू कांग्रेस नेता राहुल गांधी समेत कई नामचीन हस्तियों ने शोक व्यक्त किया।

यूपी में 15 IAS अफसरों के हुए तबादले, आठ जिलों के DM हटाए गए, देखिये लिस्ट

स्वामी अग्निवेश अपने जीवनकाल में सामाजिक के साथ राजनीतिक क्षेत्र में भी सक्रिय रहे। स्वामी अग्निवेश सामाजिक मुद्दों और सुधार जैसे मुद्दों पर अपनी बेबाक टिप्पणियों के लिए जाने जाते थे।स्वामी अग्निवेश का जन्म 21 सितम्बर 1939 को आंध्र प्रदेश के श्रीकाकुलम में जन्म हुआ था। उनके पास कानून और कॉमर्स से जुड़ी डिग्रियां थी और वह सेंट जेवियर कॉलेज कोलकाता में मैनेजमेंट के लेक्चरर भी रहे। उन्होंने 1970 में आर्य सभा नाम की राजनीतिक पार्टी भी बनाई थी। और 1977 में वह हरियाणा विधानसभा में विधायक चुने गए और हरियाणा सरकार में शिक्षा मंत्री बने। 1981 में उन्होंने बंधुआ मुक्ति मोर्चा नाम के संगठन की स्थापना की। इतना ही नहीं स्वामी अग्निवेश टीवी रियलिटी शो बिग बॉस में भी हिस्सा लिया था। और वह 8 से 11 नवंबर 2011 के दौरान तीन दिन के लिए बिग बॉस के घर में भी रहे। इतना ही नहीं समाज के विभिन्न मुद्दों पर गहन चिंतन करने के कारण स्वामी अग्निवेश ने 2011 में अन्ना हजारे की अगुवाई वाले भ्रष्टाचार विरोधी आंदोलन में भी हिस्सा लिया था। हालांकि, बाद में मतभेदों के चलते वह इस आंदोलन से दूर हो गए थे।उन्हें राजीव गांधी राष्ट्रीय सद्भावना पुरस्कार-2004, राइट लीवलीहुड अवॉर्ड-2004 (स्वीडन), एमए थॉमस नेशनल राइट अवार्ड 2006 (बेंगलुरु, इंडिया) से सम्मानित किया जा चुका है।

पूर्व कैबिनेट मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति फिर से हुए गिरफ्तार, जानिये कारण?

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *