Shadow

कौशांबी: पुरानी रंजिश में पट्टीदार ने दो वर्षीय मासूम की गला दबाकर की हत्या

पुरानी रंजिश में पट्टीदार ने दो वर्षीय मासूम बच्चे की गला दबाकर की हत्या, घर में बरामद हुआ शव

रिपोर्ट- अशोक केसरवानी

कौशांबी। यूपी के कौशांबी में कोखराज थाना अंतर्गत हसनपुर गांव में पुरानी रंजिश में पट्टीदार ने 2 वर्षीय मासूम बच्चे की गला दबाकर हत्या कर दी। हत्या करने के बाद पहले उसके शव को भूसे में छुपा रखा था। फिर अंधेरा होने पर एक स्टील की पानी की टंकी में बच्चे का शव रखकर अपने घर उठा ले गया। काफी देर तक जब बच्चा परिजनों को नहीं मिला तो बच्चे की खोजबीन शुरू हुई और शक होने पर पट्टीदार के घर की तलाशी ली गई तो बच्चे का शव बरामद हुआ। इसके बाद मुख्य आरोपी घर छोड़कर फरार हो गया। सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया। थोड़ी ही देर बाद एसपी अभिनंदन भारी फोर्स के साथ गांव पहुंचे और परिजनों से घटना के बारे में पूछताछ की। पुलिस ने आरोपी की पत्नी व बेटी को हिरासत में ले लिया और उन दोनों को लेकर थाने चली गई। गांव में तनाव की स्थिति को देखते हुए पुलिस बल तैनात कर दिया गया। एसपी अभिनंदन ने बताया कि हसनपुर गांव में एक बच्चे के शव मिलने की जानकारी हुई थी। मौके पर पुलिस पहुंची। शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। आरोपी की तलाश जारी है। गांव में शांति का माहौल कायम है।

https://www.youtube.com/watch?v=gklEn_ZlWvc

पट्टीदार ने की मासूम की हत्या

कोखराज थाना क्षेत्र के हसनपुर निवासी ज्ञान सिंह का उसके पट्टीदार राम सूरत से जमीन की पुरानी रंजिश है। ज्ञान सिंह की माने तो आए दिन राम सूरत और उसके परिवार वालों को जान से मारने की धमकी भी दे रहा थे और हमेशा किसी को मारने की ताक में रहते थे। रामसूरत का साथ उसकी पत्नी और बच्चे भी दे रहे थे। शुक्रवार की शाम तकरीबन 5 बजे ज्ञान सिंह का 2 वर्षीय बेटा शिवा घर से थोड़ी दूर खेल रहा था। रामसूरत उसकी पत्नी और बच्चे अपने पुराने कच्चे मकान के पास जानवरों को भूसा दे रहे थे। उन लोगों ने सुनसान देखकर बच्चे की हत्या करने की योजना बना डाली। रामसूरत ने अपनी बेटी निर्मला को ज्ञान सिंह के बेटे को बुला लाने के लिए कहा। निर्मला ने बहाने से मासूम शिवा को अपने कच्चे मकान की तरह बुला लाई। इसके बाद रामसूरत एवं उसकी पत्नी ने मिलकर बच्ची की गला दबाकर हत्या कर दी और शव को भूसे में छुपा दिया। काफी देर तक जब शिवा घर नहीं पहुंचा तो परिजनों ने उसकी खोजबीन शुरू कर दी। धीरे धीरे अंधेरा भी हो गया। इस पर रामसूरत की पत्नी एक स्टील की टंकी में बच्चे का शव रखकर ऊपर से उपले रखा और उसे अपने घर लेकर चली गई। कमरे में स्टील की टंकी को रख दिया। ज्ञान सिंह व परिजनों को शक हुआ तो उन लोगों ने रामसूरत के घर के भीतर तलाशी ली तो देखा की टंकी में बच्चे का शव रखा हुआ है। मौका पाकर रामसूरत घर छोड़कर फरार हो गया जबकि उसकी पत्नी और बेटी को ग्रामीणों ने धर दबोचा। घटना की सूचना मिलने के बाद मौके पर पुलिस पहुंची और शव को कब्जे में ले लिया। इसके अलावा उसकी पत्नी और बेटी को पुलिस ने हिरासत में ले लिया और उनसे पूछताछ शुरू कर दी उसकी पत्नी ने जुर्म कबूल कर लिया। पुलिस ने रामसूरत उसकी पत्नी और बेटी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर घटना की छानबीन शुरू कर दी।

जानिये यूपी पंचायत चुनाव में कितने पद हुए हैं किस वर्ग को आरक्षित

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *