Shadow

कौशांबी: जेल प्रशासन की अनोखी‌ पहल, बंदियों को दी जा रही‌ है रोजगार परक ट्रेनिंग

जेल प्रशासन की अनूठी‌ पहल, बंदियों को दिया जा रहा‌ है रोजगार परक प्रशिक्षण

कौशांबी। जेल में सजा काटने के बाद रिहा हुए कैदी फिर से अपराध न करें, इसके लिए कारागार प्रशासन ने अनूठी पहल की है। कैदियों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए जेल में सब्जी नर्सरी के साथ आधुनिक खेती की जानकारी दी जा रही है। जिससे वह जेल से रिहा होने के बाद खुद को आत्मनिर्भर बनाते हुए दूसरों को भी हुनरमंद बनाएं। इसके लिए बंदियों को 10 दिवसीय प्रशिक्षण कौशल विकास की ओर दिया जा रहा है।

देश में 24 घंटों में हुई 264 लोगों की मौत, 18 हज़ार 88 नए मामले आए सामने

डीजी जेल आनंद कुमार ने बंदियों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए एक अनूठी पहल की है। प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के तहत कारागार में सजा काट रहे कैदियों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए उन्हें आधुनिक खेती व सब्जी, नर्सरी की विधियों से रूबरू कराया जाएगा। इसके लिए जिला कारागार कौशाम्बी में 10 दिवसीय रोजगार प्रशिक्षण शिविर का शुभारंभ किया गया। जेल अधीक्षक बीएस मुकुंद ने दीप प्रज्ज्वलित कर कार्यक्रम की शुरुआत की। जेल अधीक्षक ने बताया कि जेल में 35 बंदी खेती कर रहे हैं। पहले उन्हें प्रशिक्षित करते हुए आत्मनिर्भर बनाया जाएगा। इसके बाद खेती के प्रति अच्छा रुझान रखने वाले अन्य बंदियों को भी आत्मनिर्भर बनने का मौका दिया जाएगा। जेल से रिहा होने से पहले बंदी आत्मनिर्भर हो जाएगा तो वह अपराध की दुनिया में दोबारा कदम नहीं रखेगा।

बाइट: आत्मा राम, ट्रेनर

https://www.youtube.com/watch?v=tI51OzkJ1m8

2021 में रिलीज होने जा रही इन Web series का बेसब्री से है इंतज़ार, देखें लिस्ट

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *