Shadow

लखनऊ: एंबुलेंस में इलाज के लिए घंटों तड़पती रही कोरोना संक्रमित महिला

लखनऊ। लखनऊ  में करोना वायरस से संक्रमित  महिला एंबुलेंस में इलाज के लिए घंटों तड़पती रही लेकिन उसको पीजीआई अस्पताल में भर्ती नहीं किया गया ऑक्सीजन खत्म होते देख आनन-फानन में परिजनों ने  गोमती नगर के एक निजी अस्पताल में ले जाकर महिला को भर्ती कराया जहां उसका उपचार शुरू हो सका।

जानकारी के मुताबिक जिला प्रयागराज की रहने वाली 28 साल की रूपाली 1 हफ्ते पहले बच्चे को जन्म दिया था इसके बाद अस्पताल में ही रूपाली की 28 मार्च को कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आ गई थी परिजनों ने अस्पताल में एडमिट कराया था हालांकि की बच्चे की रिपोर्ट नेगेटिव थी महिला की सांस लेने में दिक्कत होने पर डॉक्टरों ने पीजीआई लखनऊ रेफर कर दिया इसके बाद वह एंबुलेंस लेकर पीजीआई अस्पताल पहुंचे हालांकि इस दौरान मरीज के परिजनों के पास प्रयागराज सीएमओ का लेटर भी था करीब 5 घंटे महिला एम्बुलेंस में तड़पती रही इस दौरान परिजनों ने अस्पताल प्रशासन और अफसरों को फोन भी किया गया लेकिन किसी भी तरीके से महिला को पीजीआई में एडमिट नहीं किया जा सका हालांकि  महिला एंबुलेंस में बाई पैक और ऑक्सीजन सपोर्ट पर थी इसके बाद सिलेंडर में ऑक्सीजन खत्म हो रही थी हालांकि परिजनों ने ऑक्सीजन खत्म होते देख गोमती नगर स्थित निजी अस्पताल में जाकर भर्ती कराया जहां उसका इलाज शुरू किया जा सका।

पीजीआई की पीआरओ डॉक्टर कुसुम के मुताबिक,
पीजीआई में कोविड-19 अस्पताल में 60 बेड ही है इसमें क्षमता से ज्यादा मरीज भर्ती हैं जबकि पोर्टल पर मरीज का कोई डिटेल अपलोड भी नहीं किया गया था।

 

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *