Shadow

योगी सरकार के वैक्सीनेशन महाअभियान को विपक्ष ने बताया इवेंट

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस संक्रमण के खिलाफ उत्तर प्रदेश में वैक्सीनेशन का एक महाअभियान शुरू हो गया है. प्रदेश सरकार की तरफ से 18 से 44 वर्ष के लोगों को और केंद्र सरकार की तरफ से प्रदेश में 45 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के लोगों को नि:शुल्क कोरोना वायरस रोधी टीका लगवाया जा रहा है। उत्तर प्रदेश सरकार का लक्ष्य जून में एक करोड़ लोगों के वैक्सीनेशन का है। वैक्सीन के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए आज सरकार मिशन जून का आगाज करने जा रही है। मिशन जून अभियान के तहत 30 दिन में कम से कम एक करोड़ से लोगों को वैक्सीन लगाने का लक्ष्य है। कही उत्तर प्रदेश सरकार का ये महाभियान इवेंट में न बदल जाये| जिस तरह से वक्सीनशन सेंट्रो पर भारी भीड़ लग रही है उस से बीमारी बढ़ने का अंदेश भी लग रहा है| ये हम नहीं कहा रहे है बल्कि सामने आई तस्वीरें इस बात को खुद ही बया कर रही हैं|

दरअसल आज से लखनऊ में वैक्सीनेशन के महाअभियान के तहत वैक्सीन लगाने की शुरुआत कि गई है| वही के डी सिंह बाबू स्टेडियम में भी वक्सीनशन के लिए बूथ बनाया गया है जिसका जायज़ा लेने खुद सीएम योगी पहुंचें | वही सीएम योगी के बहार जाते ही के डी सिंह बाबू स्टेडियम में भारी भीड़ देखने को मिली| इस दौरान स्वास्थ्य विभाग, पुलिस टीम लोगों की भीड़ को रोकने में असमर्थ रही और खुले आम कोरोना प्रोटोकॉल की धज्जियां उड़ती रही|

वैक्सीनेशन महाअभियान या इवेंट ?

दूसरी तरफ विपक्ष भी वैक्सीनेशन के महाअभियान को लेकर हमला बोलने लगा है| विपक्ष का कहना है की योगी सरकार इसे इवेंट का रूप दे रही है, इतना ही नहीं विपक्ष का ये भी आरोप है की 2022 के विधानसभा चुनाव को देखते हुए बीजेपी सरकार राजनीतिकरण कर रही है, और मेगा वैक्सीनेशन के इस महाभियान से सरकार थर्ड फेज़ को नोयता दे रही है|

एलडीए में अवैध निर्माण रोकने के लिए नहीं, वसूली के लिए तैनात किए जाते हैं अवर अभियंता !

https://youtu.be/WZMr_2N7fQE

https://lnvindia.com/education-minist…ring-from-corona/

 

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *