Shadow

किसान सम्मेलन में पीएम मोदी ने विपक्ष पर बोला जमकर हमला

कृषि कानून के विरोध में जहां देश में किसानों का विरोध प्रदर्शन जारी है। तो वहीं शुक्रवार को प्रधानमंत्री मोदी ने किसान सम्मेलन में कृषि कानून को लेकर कई बातें बताई। मोदी ने कहा कि अगर अब भी किसी को आशंका है, तो हम सिर झुकाकर-हाथ जोड़कर हर मुद्दे पर बात करने के लिए तैयार हैं. देश का किसान, किसानों का हित हमारे लिए सबसे ऊपर है। साथ ही उन्होंने कहा कि 25 दिसंबर को एक बार फिर मैं देश के किसानों से बात करूंगा.

नौकरी के नाम पर ठगी/ पिता ने दर्ज करा दी बेटे के ही अपहरण की झूठी रिपोर्ट

विपक्ष पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि जितना ये वादा करते हैं उतना कभी कर्ज माफ नहीं करते थे, इसका फायदा कांग्रेस के करीबियों और रिश्तेदारों को मिलता था. ये सिर्फ बड़े किसानों का कर्ज माफ करते थे और समझते थे अपना काम पूरा हो गया. कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि 10 साल में एक बार 50 हजार करोड़ रुपये की कर्ज माफी की बात कही, लेकिन हमारी सरकार किसान सम्मान योजना में हर साल 75 हजार करोड़ दिया जा रहा है.

https://www.youtube.com/watch?v=TYLb321uaWc

किसानों संग संवाद करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि प्राकृतिक आपदाओं के कारण मध्य प्रदेश के किसानों को नुकसान हुआ, आज 35 लाख किसानों के खातों में 1600 करोड़ रुपये ट्रांसफर हो रहे हैं. जिसमें कोई बिचौलिया नहीं है, सीधे सरकार से किसानों को सहायता की जा रही है. साथ ही आज किसान क्रेडिट हर किसी को मिल रहा है, इससे किसानों को कर्ज के मामले में कुछ आसानी हुई है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि अगर पुरानी सरकारों को चिंता होती तो देश में 100 सिंचाई प्रोजेक्ट नहीं लटकते. हमारी सरकार करोड़ों रुपये खर्च कर इन योजनाओं को मिशन मोड में पूरा कर रही है. सरकार किसानों की लागत कम करने में लगी है, सस्ते में सोलर पंप दिए जा रहे हैं.

नोएडा में बनने वाले ज़ेवर एयरपोर्ट को लेकर मायावती ने किए ये ट्वीट

पीएम मोदी ने कहा कि यूपीए सरकार में यूरिया की दिक्कतें होती थी, लेकिन आज वो परेशानी खत्म हो गई हैं. इन लोगों के वक्त में सब्सिडी किसान के नाम पर चढ़ती थी, लेकिन लाभ किसी और को मिलता था. हमारी सरकार ने भ्रष्टाचार खत्म कर सीधे किसानों के खाते में पैसा दिया.

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *