Shadow

कोरोना मरीजों को राहत, बोकारो से दो टैंकर लेकर लखनऊ आई ऑक्सीजन एक्सप्रेस

कोरोना संक्रमण झेल रही जिंदगियों को बचाने के लिए ऑक्सीजन एक्सप्रेस शनिवार सुबह दो टैंकर लेकर बोकारो से लखनऊ आ गई। दोनों टैंकर लखनऊ में उतारे गए। टैंकर आने पर अपर मुख्य सचिव अवनीश गृह अवस्थी के अलावा रेलवे, जिला प्रशासन और पुलिस के अफसर चारबाग रेलवे स्टेशन पहुंचे। अपर मुख्य सचिव ने कहा कि यह दोनों ट्रैकर आक्सीजन लेकर दो दिन के अंदर बोकारो से लखनऊ आ गए हैं। आज तीन टैंकर बोकारो के लिए और भेजे जाएंगे।

अब लखनऊ के साथ ही पूरे प्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों को ऑक्सीजन की कमी नहीं होगी। बोकारो गैस प्लांट से आक्सीजन लाने की प्रक्रिया चलती रहेगी। लखनऊ में चार से पांच गुना आक्सीजन की डिमांड बढ़ गई है। जिलाधिकारी रोशन जैकब और स्वास्थ्य विभाग तय करेगा कि किन किन अस्पतालों और प्लांट में आक्सीजन की कितनी आवश्यकता है। आज ही सभी अस्पतालों के खाका तैयार करके उन्हें आक्सीजन कि सप्लाई दे दी जाएगी।

बता दे, आक्सीजन की अस्पतालों, पड़ोसी जनपदों और गैस प्लांट पर भेजने के लिए यहाँ कड़ी सुरक्षा के बंदोबस्त किए गए हैं। चाडीसीपी ट्रैफिक ख्याति गर्ग की निगरानी में ट्रैफिक कंट्रोल रूम से सभी टैंकर और ऑक्सीजन गैस वितरित करने वाली गाड़ियों के चालकों को जोड़ा गया है। अस्पताल और गैस प्लांट तक आक्सीजन पहुंचाने के लिए सभी गाड़ियों को पुलिस को स्कॉर्ट दी जाएगी। पुलिस अस्पतालों से लेकर गैर जनपद जाने वाले गाड़ियों तक लखनऊ बॉर्डर तक पहुँचाएगी। बता दें शुक्रवार दोपहर दो बजे आक्सीजन एक्सप्रेस बोकारो से तीन ट्रैकरों में आक्सीजन गैस लेकर लखनऊ के लिए रवाना हुई थी। एक टैंकर बनारस में उतारा गया था दो लखनऊ पहुंचे। लखनऊ करीब 6:30 बजे सुबह आक्सीजन एक्सप्रेस टैंकर लेकर पहुंची।

वाराणसी से लखनऊ ऑक्सीजन एक्सप्रेस लेकर पहुंची टीम

बोकारो से एक ट्रेन चालक आक्सीजन एक्सप्रेस लेकर वाराणसी पहुंचा। वाराणसी दे चालक गुड्डू गौड़ आक्सीजन एक्सप्रेस लेकर लखनऊ पहुंचे। लखनऊ यार्ड पहुंचने पर चालक फिर बदले गए। यार्ड से चालक संजीव कुमार, कुलदीप यादव और संट मैन नरेंद्र मीणा प्लेटफार्म तक पहुंचे।

लखनऊ में कोरोना से हालात बेकाबू, बैकुंठ धाम में दाह संस्कार कराने वालों की लगी भीड़

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *