Shadow

Tag: EDUCATION

यूपी टीईटी पास अभ्यर्थियों के हित में योगी सरकार का बड़ा आदेश

यूपी टीईटी पास अभ्यर्थियों के हित में योगी सरकार का बड़ा आदेश

उत्तर प्रदेश, करियर
यूपी टीईटी उत्तीर्ण 21 लाख से अधिक अभ्यर्थियों के लिए बड़ी खुशखबरी है। सीएम योगी ने केंद्र की तर्ज पर यूपी टीईटी के प्रमाणपत्र को भी आजीवन मान्य करने का आदेश दे दिया है। उन्होंने बुधवार को समीक्षा बैठक के दौरान निर्देश दिया कि भारत सरकार के दिशा-निर्देशों के अनुसार यूपी टीईटी का प्रमाणपत्र को आजीवन वैधता प्रदान की जाए। एक बार परीक्षा उत्तीर्ण होने के बाद दोबारा देने की आवश्यकता नहीं होगी। इस संबंध में नोटिफिकेशन जारी कर दिया जाए। डीएलएड पाठ्यक्रम में प्रवेश के लिए पूर्व प्रचलित व्यवस्था ही लागू रखी जाए। दरअसल, केंद्रीय मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने तीन जून को ऐलान किया था कि टीईटी 2011 से जारी हो रहे प्रमाणपत्र आजीवन होंगे। इसके पहले प्रमाणपत्र सात साल और 2020 का ही आजीवन मान्य था। मंत्री के बयान के बाद यूपी में भी इसके आजीवन मान्य होने की संभावना बढ़ गई थी। परीक्षा नियामक प्राधिकारी उत...
कोरोना से उबरने के बाद फिर बिगड़ी शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल की तबीयत

कोरोना से उबरने के बाद फिर बिगड़ी शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल की तबीयत

राष्ट्रीय
कोरोना से उबरने के बाद केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक की तबीयत एक बार फिर से बिगड़ गई है। उन्हें इलाज के लिए दिल्ली स्थित एम्स अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वह कोरोना संक्रमण से पूरी तरह उबरने के बाद से कुछ स्वास्थ्य दिक्कतों का सामना कर रहे थे। एम्स के अधिकारियों ने समाचार एजेंसी एएनआई को ये जानकारी दी है। गौरतलब है कि, रमेश पोखरियाल निशंक 21 अप्रैल को कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। 61 वर्षीय मंत्री कई दिनों तक चले इलाज के बाद वह रिकवर हुए थे, लेकिन एक बार फिर से उन्हें पोस्ट कोविड जटिलताओं से जूझना पड़ा है। एक सूत्र ने जानकारी दी कि मंत्री को एम्स के मेडिसिन विभाग में एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. नीरज निश्चल के अधीन भर्ती कराया गया है। बता दें कि अब पोस्ट कोविड खतरों को लेकर चिंताएं जाहिर की जा रही हैं। क्योंकि, ठीक होने के बाद भी लोग शारीरिक स्थिलता, आंशिक दिव्यांगता, मानसिक बीमा...
छात्रों के लिए बड़ी खबर, जनवरी-फरवरी में नहीं होंगे CBSE बोर्ड के EXAM

छात्रों के लिए बड़ी खबर, जनवरी-फरवरी में नहीं होंगे CBSE बोर्ड के EXAM

करियर, ट्रेंडिंग, राष्ट्रीय
केंद्र सरकार का निर्णय, जनवरी-फरवरी में नहीं होंगे CBSE बोर्ड के EXAM नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने बड़ा निर्णय लिया है जिसमें अब सीबीएसई बोर्ड की परीक्षाएं जनवरी-फरवरी में नहीं होंगी। यह निर्णय कोरोना संक्रमण के प्रभाव के कारण लिया गया है। मुरादाबाद SSP के साथ रामपुर के SP ने गाड़ी से उतरकर बचाई जान                              कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रभाव के कारण केंद्रीय मंत्री ने ये निर्णय लिया है। बता दें इस बार कोरोना के प्रभाव के कारण साल 2020 का शिक्षा का सत्र पूरी तरह प्रभावित रहा। न सिर्फ छात्रों के स्कूल कॉलेज बंद रहे बल्कि ऑनलाइन शिक्षा को बढ़ावा भी मिला। जिसका प्रभाव ये देखने को मिला कि ज्यादातर छात्रों ने घर से ही पढ़ाई की। वहीं कुछ छात्रों ने तो पढ़ाई से दूरी बना ली। सिद्धार्थनाथ ने अभी तक बहस का समय और जगह नहीं बताई, अभी भी है इंतज़ार: संजय सिंह ...