Shadow

Tag: supreme court

ऑडिट कमेटी : केजरीवाल सरकार ने जरूरत से 4 गुना अधिक की थी ऑक्सीजन की मांग

ऑडिट कमेटी : केजरीवाल सरकार ने जरूरत से 4 गुना अधिक की थी ऑक्सीजन की मांग

राष्ट्रीय
कोरोना की दूसरी लहर के दौरान दिल्ली समेत देश के अन्य इलाकों में ऑक्सीजन संकट का सामना करना पड़ा था। इस बीच दिल्ली में ऑक्सीजन संकट को लेकर सुप्रीम कोर्ट की ऑडिट पैनल की रिपोर्ट में हैरान करने वाला खुलासा हुआ है। मीडिया रिपोर्ट की मानें तो सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित ऑक्सीजन ऑडिट कमेटी ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि कोरोना की दूसरी लहर के दौरान दिल्ली सरकार ने जरूरत से चार गुना अधिक ऑक्सीजन की मांग की थी। सुप्रीम कोर्ट ने यह ऑडिट कमेटी पिछले महीने गठित की थी। इस कमेटी ने अपनी रिपोर्ट में पाया है कि दिल्ली सरकार ने कोरोना की दूसरी लहर के दौरान चार गुना ज्यादा ऑक्सीजन की मांग की। ऑडिट कमेटी की रिपोर्ट सामने आने के बाद भाजपा लगातार मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर निशाना साध रही है। पूर्व क्रिकेटर और गौतम गंभीर ने भी ट्वीट कर कहा कि, अगर अरविंद केजरीवाल में शर्म बची है तो अभी एक प्रेस कॉन्फ्र...
हाथरस मामला : सुप्रीम कोर्ट में याचिका पर आज होगी सुनवाई

हाथरस मामला : सुप्रीम कोर्ट में याचिका पर आज होगी सुनवाई

उत्तर प्रदेश, राजनीति
उत्तर प्रदेश के हाथरस में एक दलित युवती के कथित गैंगरेप और मौत मामले की सीबीआई या एसआईटी से जांच कराने की मांग वाली याचिका पर आज यानी मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट सुनवाई करेगा। हाथरस कांड मामले में दायर इस याचिका पर मुख्य न्यायाधीश जस्टिस एसए बोबडे, जस्टिस एएस बोपन्ना और जस्टिस वी रामासुब्रमण्यम की बेंच सुनवाई करेगी। याचिका में जांच की निगरानी सुप्रीम कोर्ट या हाईकोर्ट के वर्तमान या रिटायर्ड जज से कराने की मांग भी की गई है। दिल्ली निवासी सामाजिक कार्यकर्ता सत्यम दुबे और कुछ वकीलों ने यह याचिका दाखिल की है। याचिका में कहा गया है कि यूपी में मामले की जांच और ट्रायल निष्पक्ष नहीं हो पाएगी। गौरतलब है कि हाथरस कांड को लेकर यूपी सरकार और पुलिस के एक्शन पर सवाल उठने लगे थे, जिसके बाद यूपी सरकार ने सोमवार को यह मामला सीबीआई को स्थानांतरित कर दिया था। जनहित याचिका में निष्पक्ष जांच की आवश्यकता की...
प्रणब मुखर्जी के अंतिम संस्कार सहित पढ़ें बड़ी खबरें

प्रणब मुखर्जी के अंतिम संस्कार सहित पढ़ें बड़ी खबरें

ट्रेंडिंग, राष्ट्रीय
दिल्लीः प्रणब मुखर्जी का अंतिम संस्कार आज ढाई बजे लोधी श्मशान घाट पर होगा पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का मंगलवार को अंतिम संस्कार किया जाएगा। जानकारी के अनुसार, आज दोपहर करीब ढाई बजे दिल्ली के लोधी रोड श्मशान घाट में पूर्व राष्ट्रपति को अंतिम विदाई दी जाएगी। इससे पहले उनके पार्थिव शरीर को अंतिम दर्शन के लिए उनके निवास स्थान (10, राजाजी मार्ग, नई दिल्ली) पर रखा गया है | प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को उनके आवास 10, राजाजी मार्ग पर श्रद्धांजलि देने पहुंचे| बता दें कि 21 दिन तक सैन्य अस्पताल में भर्ती रहने के बाद सोमवार को पूर्व राष्ट्रपति मुखर्जी का निधन हो गया था। यूपीः इलाहाबाद हाईकोर्ट ने दिए कफील खान से NSA हटाने के निर्देश गोरखपुर के डॉक्टर कफील खान के ऊपर से एनएसए हटाने का आदेश दिया गया है.. इलाहाबाद हाई कोर्ट ने एनएसए हटाने का आदेश जारी करते ...
विकास दुबे पर सुप्रीम कोर्ट में दायर हलफनामे से सवालों में यूपी पुलिस

विकास दुबे पर सुप्रीम कोर्ट में दायर हलफनामे से सवालों में यूपी पुलिस

राष्ट्रीय
विकास दुबे के एनकाउंटर पर सवाल उठाने वाली याचिका पर आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई. इस दौरान यूपी सरकार की तरफ से सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने बताया कि मुठभेड़ सही थी. हालांकि, कोर्ट की तरफ से ये कहा गया कि राज्य सरकार कानून व्यवस्था बनाने के लिए जिम्मेदार है और इसके लिए ट्रायल होना चाहिए था. साथ ही कोर्ट ने कहा है कि जांच कमेटी में पूर्व SC जज और एक पुलिस अधिकारी हमारे होंगे. यूपी सरकार जांच कमेटी के पुनर्गठन पर सहमत भी हो गई है. उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से सुप्रीम कोर्ट में दायर हलफनामा इस ओर भी चिंता जता रहा है कि राज्य में पुलिसिंग के साथ-साथ राज्य का प्रशासन भी किस कदर सुस्त पड़ा है, जिसके कारण अपराधी वारदात को आसानी से अंजाम दे देते हैं. सीजेआई ने सुनवाई के दौरान ये भी कहा कि हैरानी की बात है इतने केस में शामिल शख्स बेल पर था और उसके बाद ये सब हुआ. कोर्ट ने इस पूरे मामले पर तफ्सी...
69000 सहायक शिक्षक भर्ती मामले में हाईकोर्ट ने सुनाया बड़ा फैसला, योगी सरकार को मिली रहत

69000 सहायक शिक्षक भर्ती मामले में हाईकोर्ट ने सुनाया बड़ा फैसला, योगी सरकार को मिली रहत

उत्तर प्रदेश, करियर
इलाहाबाद हाईकोर्ट की डबल बेंच ने 69000 शिक्षक भर्ती मामले पर बड़ा फैसला लिया है| जिसके बाद योगी सरकार को बड़ी राहत मिल गई है| इलाहाबाद हाईकोर्ट की डबल बेंच ने निर्देश दिया है कि 9 जून के सुप्रीम कोर्ट (SC) के फैसले के मुताबिक आगे की कार्रवाई की जाए| बता दें इससे पहले हाईकोर्ट की सिंगल बेंच ने अपने फैसले में शिक्षक भर्ती प्रक्रिया पर रोक लगा दी थी| बता दें की जस्टिस पीके जायसवाल और जस्टिस डीके सिंह की डिवीजन बेंच ने ये फैसला सुनाया है| वही हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच ने योगी सरकार की 3 स्पेशल अपील पर आज आदेश सुनाते हुए एकल पीठ के 3 जून के आदेश को स्टे कर दिया. इसका मतलब ये हुआ कि अब सरकार सुप्रीम कोर्ट के 9 जून के आदेश से करीब 37 हज़ार पदों पर लगी रोक के इतर शेष बचे पदों पर भर्ती प्रकिया आगे बढ़ाने को स्वतंत्र है|...
NEET पर सुप्रीम कोर्ट ने दिया बड़ा फैसला

NEET पर सुप्रीम कोर्ट ने दिया बड़ा फैसला

करियर
NEET एग्जाम को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने बड़ा फैसला लिया है | सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि एमबीबीएस, एमडी या डेंटल कोर्स में दाखिले के लिए यूनिफॉर्म एग्जाम नीट ही होगा और यह सहायता प्राप्त या गैर सहायता प्राप्त अल्पसंख्यक संस्थानों के संवैधानिक अधिकार में दखल नहीं देता है। सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस अरुण मिश्रा, जस्टिस विनीत शरण और जस्टिस एमआर शाह की बेंच ने कहा कि नीट के जरिये मेडिकल और डेंटल कोर्स में दाखिले का जो फैसला लिया गया था वह एडमिशन में करप्शन को खत्म करने के लिए लिया गया है और यह दाखिला प्रक्रिया यूनिफॉर्म है। सुप्रीम कोर्ट ने उस दलील को खारिज कर दिया जिसमें कहा गया था कि नीट प्राइवेट संस्थानों को व्यापार और व्यवसाय के संवैधानिक अधिकार में दखल देता है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि अनुच्छेद-19 (1) जी कहीं से भी पूर्ण अधिकार नहीं है और इसमें वाजिब रोक का प्रावधान है। स्टूडेंट के हित में य...