Shadow

Tag: #UPBJP

मिशन 2022: गृह मंत्री अमित शाह और जेपी नड्डा का अगस्त में लखनऊ दौरा

मिशन 2022: गृह मंत्री अमित शाह और जेपी नड्डा का अगस्त में लखनऊ दौरा

उत्तर प्रदेश, राजनीति
उत्तर प्रदेश की सत्ता पर काबिज भारतीय जनता पार्टी अपना कब्जा बरकरार रखना चाहती है। उत्तर प्रदेश में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर भाजपा का शीर्ष नेतृत्व बेहद गंभीर है और अगस्त में उत्तर प्रदेश में चरणवार बड़े नेताओं के दौरे हैं। भाजपा के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष तथा केंद्रीय गृह तथा सहकारिता मंत्री अमित शाह जहां एक अगस्त को लखनऊ में रहेंगे, वहीं भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा का लखनऊ का दो दिन का दौरा है। शाह उत्तर प्रदेश को बड़ा तोहफा देने लखनऊ आ रहे हैं तो नड्डा दो दिन के दौरे में लखनऊ में भाजपा उत्तर प्रदेश के संगठन के नेताओं के साथ बैठक में उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव की तैयारी को धार देने का काम करेंगे। राजधानी लखनऊ में पुलिस व विधि विज्ञान विश्वविद्यालय का निर्माण अगस्त में शुरू हो जाएगा। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह एक अगस्त को इस विश्वविद्यालय का शिलान्यास क...
बीजेपी सांसद कौशल किशोर की बहू लापता, मायके वालों ने लगाई सीएम से गुहार

बीजेपी सांसद कौशल किशोर की बहू लापता, मायके वालों ने लगाई सीएम से गुहार

उत्तर प्रदेश
लखनऊ के मोहनलालगंज से बीजेपी सांसद कौशल किशोर और उनके बेटे आयुष किशोर पर अंकिता के पिता ने आरोप लगाया है कि उनकी बेटी को बीजेपी सांसद और उनके परिवार के लोगों ने अगवा कर लिया है. लड़की के पिता ने कहा कि लखनऊ जिला न्यायालय में बीती 16 तारीख को वह पेशी के लिए आई थी. इसके बाद अंकिता अपनी बड़ी बहन के बेटे के घर आगरा बर्थडे पार्टी में जा रही थी, उसी दौरान उसे अगवा किया गया है. अब उसे जान से मारने की धमकी दी जा रही है. आयुष की पत्नी अंकिता के परिजनों का कहना है कि अंकिता का फोन 4 बजे से बंद आ रहा था. हमलोग मुख्यमंत्री से न्याय की गुहार लगाना चाहते हैं कि अंकिता को बचा लिया जाए. नहीं तो उसकी हत्या हो जाएगी. परिजनों का कहना है कि अंकिता ने अपनी बड़ी बहन को मैसेज भेजा और वह मैसेज हमारे पास भी आया है. परिजनों की तरफ से जारी किए गए उस मैसेज में लिखा है कि आयुष ने जगह बदल दी है. उधर से मैसेज मत करना....
सीएम योगी का केशव प्रसाद मौर्या के घर लंच….. क्या है इसका सियासी मायने?

सीएम योगी का केशव प्रसाद मौर्या के घर लंच….. क्या है इसका सियासी मायने?

उत्तर प्रदेश, राजनीति
राजधानी में मंगलवार को तेजी से चले सियासी घटनाक्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ समेत संघ और भाजपा के दिग्गज नेताओं ने डिप्टी सीएम केशव मौर्य के घर पहुंचकर लंच किया जिसके बाद कई तरह की ख़बरें सामने आने लगी| वही इस लंच को ये भी कहा जा रहा है की इसके माध्यम से पार्टी में एकजुटता का संदेश देने की कोशिश की गई है। गौरतलब है की साढ़े चार साल में यह पहला मौका था जब सीएम योगी मौर्य के आवास पर गए। बता दें की जिस तरह से केशव मौर्य के आवास पर सीएम योगी समेत संघ और भाजपा के दिग्गज नेताओं का जमावड़ा हुआ उससे यह साफ संकेत मिला कि यूपी विधानसभा चुनाव को लेकर संघ और भाजपा नेतृत्व किसी तरह का जोखिम उठाने को तैयार नहीं है। चुनावी रणनीतिकार लोगों के बीच यह संदेश नहीं जाने देना चाहते कि पार्टी में खींचतान या नेताओं के बीच किसी तरह का मनमुटाव हैं। भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री (संगठन) बी.एल. संतोष, आरएसएस...
यूपी के सियासी गलियारों में हलचल तेज़, बीएल संतोष व राधामोहन की बैठक जारी

यूपी के सियासी गलियारों में हलचल तेज़, बीएल संतोष व राधामोहन की बैठक जारी

उत्तर प्रदेश, राजनीति
2022 विधासभा चुनाव को लेकर उत्तर प्रदेश में सियासत को लेकर हाईलेवल मीटिंग शुरू हो गई है। भाजपा के राष्ट्रीय संगठन महासचिव बीएल संतोष लखनऊ पहुंच गए हैं। बीएल संतोष का एक महीने में दूसरा लखनऊ दौरा है। भाजपा के पदाधिकारियों के साथ सरकार के मंत्रियों से भी आगामी विधानसभा चुनाव की तैयारियों को लेकर मंथन करेंगे। UP प्रभारी राधा मोहन सिंह भी मौजूद हैं। यहां प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह और प्रदेश के संगठन महामंत्री सुनील बंसल मौजूद हैं। कुछ ही देर में बैठक होगी। इससे पहले बीएल संतोष और राधामोहन सिंह 31 मई से 2 जून तक लखनऊ में थे। बाद में 6 जून को भी लखनऊ आए राधामोहन सिंह ने प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल तथा विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित से मुलाकात की थी। वहीं, दौरे से ठीक एक दिन पहले यानी रविवार (20 जून) भाजपा में एक अहम बैठक हुई थी। इस वर्चुअल बैठक में प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव...
PM मोदी के करीबी एके शर्मा को नहीं मिला मंत्रालय, लम्बे वक्त से थी चर्चा

PM मोदी के करीबी एके शर्मा को नहीं मिला मंत्रालय, लम्बे वक्त से थी चर्चा

उत्तर प्रदेश, राजनीति, राष्ट्रीय
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी  के करीब रहे एके शर्मा को उत्तर प्रदेश में संगठन में एक पद देकर अटकलों पर विराम लगा दिया. एके शर्मा को प्रदेश उपाध्यक्ष की जिम्मेदारी पार्टी ने सौंपी है. इसके साथ ही प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने अर्चना मिश्रा और अमित बाल्मीकि को प्रदेश मंत्री नियुक्त किया है. मालूम हो कि गुजरात कैडर के 1988 बैच के आईएएस अरविंद कुमार शर्मा को 14 जनवरी 2021 उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह और उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने बीजेपी (BJP) की सदस्यता दिलाई थी. क्योंकि अरविंद कुमार शर्मा पीएम नरेंद्र मोदी के नजदीकी लोगों में शुमार रहे हैं और वह एकाएक वीआरएस लेकर यूपी में एमएलसी चुनाव के बीच बीजेपी से जुड़े. फिर वे विधान परिषद के सदस्य बनाए गए. ऐसे में उनकी दूसरी बड़ी भूमिकाओं तक के कयास लगने लगे. घटनाक्रम के बाद संगठन से लेकर सरकार ...
सरकार और संगठन की थाह लेने फिर यूपी आएंगे बीएल संतोष

सरकार और संगठन की थाह लेने फिर यूपी आएंगे बीएल संतोष

उत्तर प्रदेश, राजनीति
यूपी बीजेपी संगठन और सरकार की थाह लेने के लिए बीजेपी के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बीएल संतोष फिर लखनऊ आ रहे हैं। वह 21 और 22 जून को प्रदेश बीजेपी के पदाधिकारियों और सरकार के मंत्रियों के साथ बैठेंगे और पता करेंगे कि पिछले दौरे में उन्हें जितना ‘होमवर्क’ दिया गया था, उस पर कितना काम हुआ है। संतोष का यह इस महीने में दूसरा दौरा है। वह बीती 31 मई को राजधानी आए थे और दो जून तक रुके थे। बीएल संतोष ने पिछले दौरे में यूपी बीजेपी और सरकार को लक्ष्य दिया था कि वे कार्यकर्ताओं की चिंता करें। कोरोना ने जिन कार्यकर्ताओं की जान ले ली है, उनके घर जाएं और उनके परिवार की हर संभव मदद करें। सभी से जिलों में दौरा करने को भी कहा गया था और सरकार में निगमों, आयोगों के साथ अन्य खाली पदों पर मनोनयन करने पर भी उन्होंने जोर दिया था। सूत्रों का कहना है कि संगठन ने अपनी रिपोर्ट तैयार कर ली है कि उनके जाने के बाद...