Shadow

UPPCS-2018 का परीक्षा परीणाम जारी, TOP-3 में रहा छात्राओं का कब्ज़ा

फाइल फोटो

प्रयागराज: अधिकारी बनने का सपना संजो रहे लाखों परीक्षार्थियों का आज उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग ने इंतजार समाप्त कर दिया। आयोग ने पीसीएस-2018 का अंतिम परिणाम आज घोषित कर दिया है। पीसीएस 2018 में छात्राओं का वर्चस्व है। पीसीएस परीक्षा 2018 का अंतिम परिणाम अयोग की बेवसाइट http://uppsc.up.nic.in पर उपलब्ध है।

#METOO/ ‘साजिद ने मुझे उसके सामने कपड़े उतारने तक के लिए कहा’, मॉडल ने लगाया आरोप

आयोग द्वारा जारी परिणाम में टॉप तीन में छात्राओं का ही कब्जा है। पीसीएस 2018 में पानीपत की अनुज नेहरा ने टॉप किया। दूसरे स्थान पर गुड़गांव की संगीता राघव व तीसरे स्थान पर मथुरा की ज्योति शर्मा हैं। चौथे स्थान पर जालौन के विपिन कुमार शिवहरे व पांचवें स्थान पर पटना के कर्मवीर केशव हैं। पदों की भर्ती के मामले में हाल के वर्ष में उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग की इधर के वर्षों की सबसे बड़ी परीक्षा से प्रदेश को 988 अधिकारी मिलेंगे। इस बार की परीक्षा में शीर्ष तीन स्थान पर जगह पाने वाले उत्तर प्रदेश के बाहर के हैं। अयोग के सचिव जगदीश निधि ने बताया कि परिणाम छात्र-छात्राओं के लिए आयोग कार्यालय में सूचना पट पर भी लगाया गया है।

उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग ने पीसीएस-2018 का अंतिम रिजल्ट शुक्रवार दोपहर में घोषित कर दिया है। इसमें 988 पदों के सापेक्ष 976 अभ्यर्थी सफल हुए हैं। सूचना अधिकारी व जिला सूचना अधिकारी के 12 पदों के सापेक्ष उपयुक्त अभ्यर्थी नहीं मिले। इससे उक्त पद को खाली छोड़ दिया गया है। इंटरव्यू के लिए 2669 अभ्यर्थी सफल हुए थे। इंटरव्यू 15 जुलाई से 25 अगस्त तक चला। इसमें 68 अभ्यर्थी अनुपस्थित रहे।

यूपी पीसीएस 2018 के आज घोषित परिणाम में लखनऊ के क्षितिज द्विवेदी की 11वीं रैंक है। क्षितिज द्विवेदी अभी भारतीय स्टेट बैंक में प्रोबेशनरी ऑफिसर के तौर पर कार्यरत हैं। उनके पिता ओम प्रकाश द्विवेदी वित्त विभाग में विशेष सचिव हैं। क्षितिज द्विवेदी के बड़े भाई डिप्टी कलेक्टर हैं।

NEP-2020 : PM मोदी ने कहा- हमें छात्रों को 21वीं सदी की स्किल्स के साथ आगे बढ़ाना है

 

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *